Loading

अल्मोड़ा 18 मार्च, 2023 राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन योजनान्तर्गत विकासखण्ड द्वाराहाट के ग्राम असगोली में मॉ दुर्गा स्वयं सहायता समूह की महिलाओं द्वारा पिरूल से विभिन्न प्रकार के उत्पाद बनाये जा रहे है। परियोजना निदेशक चंदा फर्त्याल ने बताया कि नैनीताल जनपद के रामनगर में प्रस्तावित जी-20 सम्मेलन में भी इन उत्पादों का स्टॉल लगाने हेतु समूह की महिलाएं उत्पाद तैयार कर रही है। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन योजनान्तर्गत महिलाओं को पाइन क्राफ्ट का प्रशिक्षण दिया गया, प्रशिक्षण के उपरान्त महिलाओं द्वारा विभिन्न प्रकार के पिरूल के उत्पाद बनाये जा रहे है जैसे टोपी, टोकरी, थाली, हॉटकेस, शॉपीस ट्रे, कटोरे, पेन स्टेण्ड आदि। उन्होंने बताया कि इन उत्पादों को स्थानीय मेले, स्थानीय बाजार, आजीविका महोत्सव, हिंलास आउटलेट में विपणन किया जा रहा है। पिरूल के इस अभिनव प्रयोग से न केवल वनाग्नि रोकने का प्रयास हुआ है अपितु बिना लागत के महिलाओं को एक अच्छा आय का स्रोत भी प्राप्त हुआ है।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.