Loading

बागेश्वर यहा आकाशीय बिजली गिरने से जनपद के लेटी गांव में 13 मवेशी मारे गये हैं। इस घटना मे यदि चरवाहे मन्दिर मे नही गये होते तो वे भी इस आकाशीय विजली के चपेट में आ जाते वे बाल -बाल बच गये । आज अचानक मौसम बदलने से ओलाबृष्ठि व आँधी चलने लगी इसी बीच लेटी गांव मे जंगल मे मवेशियो को तुगा रहे चरवाहे तेज हवाओं से बचने के लिये और लेटी गांव के कंपाट नंबर सात में गोजू मंदिर मे चले गये पास मे ही चीड़ के एक पेड़ मे आकाशीय बिजली गिरी जिसमें वहा चर रही गाय, बैल, बकरियां आदि इसके चपेट मे आ गई जिससे वहां अफरातफरी मच गई। घटना में पान सिंह, गुमान सिंह, दरवान सिंह, मोहन सिंह, चंदन सिंह की एक-एक गाय, जीत सिंह, ललित सिंह, गोविंद सिंह, ठाकुर सिंह, पान सिंह, आन सिंह, मोहन सिंह, जीवन सिंह, राम सिंह, मोहन सिंह के एक-एक बैल मर गए हैं।
घटना से पीड़ित लोगों ने प्रशासन से आपदा मद से मुआवजे की मांग की है। इधर, जिला आपदा अधिकारी शिखा सुयाल ने कहा कि पशु चिकित्सक और राजस्व पुलिस घटना की जांच करेगी। उन्होंने कहा कि मौसम विभाग के अनुसार आकाशीय बिजली गिरने, वर्षा आदि की संभावना व्यक्त की गई हैं। लोगों को ऐसे मौसम में सावधानी बरतनी है। आपदा से हुई मौतों मे मुवावजे का प्राविधान है । अब आपदा प्रवन्धन विभाग आगे की कार्यवाही करेगा ।।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.