Loading

अल्मोड़ा प्रख्यात प्रख्यात चिकित्सक गजेंद्र थापा की स्मृति में पिछले वर्षों की तरह इस वर्ष भी 2 मई को मुरली मनोहर सभागार में स्मृति समारोह मनाया गया ।कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे आई ए एस (सेवानिबबृत ) डा राजीव कुमार गुप्ता ने कहा कि उन्होनें डा गजेन्द्र थापा के बारे जो कुछ सुना जाना वह हमें भाव बिह्वल कर देता है । आज के दौर मे इस तरह के चिकित्सक होना एक कल्पना सी लगती है यह अनोखी बात है कि उनके निधन के पचास वर्ष के बाद भी अल्मोड़ा उन्हें याद कर रहा है यह अल्मोड़ा की संस्कृति व शिष्ठाचार का परिचायक है ।, उनका जीवन हम सब के लिये एक प्रेरणा है । उन्होंने इस अवसर पर डा सुधीर वर्मा को भी याद किया ,। उन्होंने कहा कि न्यायमूर्ति सुधीर बर्मा ने भी डा गजेन्द्र थापा के मार्ग पर चलकर समाज को एक दिशा दी वह उत्तर प्रदेश के लोकायुक्त के पद पर रहे । डा थापा के लिये उनके रोगी ही भगवान थे उनकी सेवा को ही वह भगवान की सेवा समझते थे। इस अवसर पर अपना आधार बक्तब्य देते हुवे नगर पालिक अल्मोड़ा के निवर्तमान अध्यक्ष प्रकाश चन्द्र जोशी ने कहा कि डॉक्टर गजेंद्र थापा उस दौर के प्रमुख चिकित्सा रहे हैं, जब एलोपैथिक चिकित्सा अपने प्रारंभिक चरण में थी, लोग अक्सर बैद्यों पर ही निर्भर रहते थे , ऐलौपैथिक चिकित्सा का प्रचार -प्रसार तो था पर चिकित्सक बहुत कम थे , उस दौर मे उत्तराखंड सहित उत्तर प्रदेश के विभिन्न स्थानों में डा गजेन्द्र थापा ने अपनी चिकित्सा सेवाओं से लोगों के दिलों पर राज किया , उत्तर प्रदेश के विभिन्न स्थानों मेअपनी सेवाये देने के बाद डॉक्टर गजेंद्र थापा जब वापस अल्मोड़ा आये तो उन्हेंने निशुल्क चिकित्सा सेवा को अपना मिशन बना लिया उनका सायंकाल अल्मोड़ा के बाजार मे भ्रमण होता था वे बाजार मे अथवा रोगियों के घर घर जाकर उन्हे परामर्श व औषधी देते थे। । गोरखा समाज सुधार समिति के अध्यक्ष सुनील कुमार घरती ने अतिथियों का स्वागत करते हुवे कहा कि गोरखा समाज गजेन्द्र थापा की याद में हर वर्ष कार्यक्रम आयोजित करता है , उन्होंने समाज की ओर से सभी का स्वागत किया, कार्यक्रम के संयोजक जंग बहादुर थापा ने इस वर्ष सम्मानित हो रहे जिला चिकित्सालय मे कार्यरत चिकित्सक , डा अनुज साह , व दन्त चिकित्सक डा सन्तोष सिंह बिष्ट के जीवन बृत्त पर प्रकाश डाला कार्यक्रम की अध्यक्षता , गुजरात कैड़र के पूर्व आई ए एस अधिकारी व मुख्य सचिव रहे , डा संजीव कुमार गुप्ता ने की तथा संचालन नीरज पांगती , ने किया कार्यक्रम 2मई को अपराह्न चार बजे से मुरली मनोहर सभागार में आयोजित हुवा ,। मन्चासीन अतिथियों ने डा .गजेन्द्र थापा की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया। तथा श्रद्धान्जली दी । संगीतज्ञ कमल जोशी , धिरेन्द्र भारती व पिहु जोशी ने सुमधुर भजन गाकर वातावरण को मन्त्रमुग्ध कर दिया । इस अवसर पर उत्तराखण्ड लोक वाहिनी की ओर से डा गजेन्द्र थापा को श्रद्धान्जली देते हुवे दयाकृष्ण काण्ड़पाल ने कहा कि डा गजेन्द्र थापा के समतुल्य सेवा भावी ब्यक्ति रा होना अत्यन्त दुर्लभ है , उन्होंने इस अवसर पर उत्तर प्रदेश के लोकायुक्त रहे गजेन्द्र थापा के दामाद डा सुधीर वर्मा को भी श्रद्धान्जली दी पिछले वर्षों तक न्यायमूर्ति सुधीर वर्मा इस कार्यक्रम की शोभा बढाते थे। व डा गजेन्द्र थापा
इस अवसर पर सम्मानित किये गये चिकित्सक डा अनुज साह ,ने कहा कि वे थापा जी की स्मृति मे मिल रहे सम्मान के प्रति आयोजकों के प्रति आभार ब्यक्त करते है । डा गजेन्द्र थापा का जीवन हमारे लिये प्रेरणा के स्रोत है ,
बिधायक मनोज तिवारी ने कहा कि आज भी डा गजेन्द्र थापा हम सब लोगों के लिये प्रेरणा स्रोत है उन्होंने कहा कि हम पिछले वर्षों की भांकि इस वर्ष भी अपनी मांग को दिहराते है कि मेड़िकल कालेज अल्मोड़ा मे किसी एक फैकल्टी का नाम डा गजेन्द्र थापा के नाम पर रखा जाय ।दन्त चिकित्सक डा सन्तोष विष्ट ने कहा कि वह हर सम्भव कोशिस करते है कि लोगों की मदद हो सके उन्होने भी आयोजक समिति को धन्यवाद दिया । कार्यक्रम में डा जे सी दुर्गापाल ,ब्यापारी नेता परितोष पाण्ड़े , रेवा बिष्ट , पूरन चन्द्र तिवारी , अजय वर्मा , एड जगत रौतेला दयाशंकर टम्टा , , केशव दत्त मिश्रा अदय मित्र बिष्ट , बिशन दत्त जोशी , ज्योति थापा , वैभव पाण्ड़े , हरीश मल्होत्रा , चन्द्रा थापा प्रीति थापा नम्रता गुप्ता , आदि शामिल रहे

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.