105 total views

देहरादून उत्तराखंड राज्य में आज दिनांक 10 दिसंबर 2022 को शनिवार के दिन मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी की अध्यक्षता में हुई राज्य वन्यजीव बोर्ड की बैठक में वन्यजीवों के हमले में मृत्यु अथवा घायल होने के मामले में मुआवजा राशि बढ़ाने के प्रस्ताव पर मुहर लग गई है।

सरकार द्वारा जारी नई गाईड लाईन के अनुसार अब वन्यजीवों पर होने वाले हमले में मृत्यु होने पर मुआवजा राशि पहले से अधिक हो जाएगी। वहीं दूसरी ओर विश्व प्रसिद्ध शिकारी एवं संरक्षणवादी जिम कॉर्बेट की याद में राज्य के अंतर्गत ट्रेल बनाने, राजाजी टाइगर रिजर्व के अंतर्गत चौरासी कुटी को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान दिलाने हेतु भी बोर्ड से हरी झंडी मिल चुकी है और इसके लिए प्रस्ताव पर्यटन विभाग बनाएगा। राज्य में मानव वन्यजीव संघर्ष की रोकथाम के लिए भी दो करोड़ का कार्पस फंड बनेगा। बता दें कि उत्तराखंड राज्य में वन्यजीवों पर होने वाले हमले में उनकी मृत्यु हो जाने पर अब 6 लाख रुपए का मुआवजा दिया जाएगा। यह निर्णय आज शनिवार को हुई बैठक में लिया गया। बता दें कि अभी तक मृत्यु होने के मामले में 400000 मुआवजे का प्रावधान था और घायल वन्यजीवों के मामले में 50,000 का मुआवजा दिया जाता था मगर घायल होने के मामले में मुआवजे की राशि 50000 से बढ़ाकर एक लाख कर दी गई हैं और इसी के साथ मृत्यु होने पर चार लाख की मुआवजे की राशि बढ़ाकर ₹600000 कर दी गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.