Loading

अल्मोड़ा उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी ने राज्य में हो रही प्राकृतिक संसाधनों की लूट, महंगाई, बेरोजगारी से ध्यान हटाने के लिए प्रदेश सरकार पर गैर जरूरी मुद्दे उठाने का आरोप लगाया है। उपपा के केंद्रीय कार्यालय में आज हुई बैठक में पार्टी ने कहा कि श्रीदेव सुमन के बलिदान दिवस आगामी 24, 25 जुलाई को पार्टी के राज्य भर के नेतृत्वकारी साथी गैरसैंण में जनसमस्याओं के निराकरण व राजनीतिक परिवर्तन की रणनीति तय करेंगे।
पार्टी के केंद्रीय कार्यालय में आज हुई बैठक में पार्टी के केंद्रीय अध्यक्ष पीसी तिवारी ने कहा कि प्रदेश व केंद्र में सत्तारूढ़ भाजपा चुनावी लाभ के लिए महंगाई, बेरोजगारी, जमीनों की लूट से ध्यान बंटाने के लिए धार्मिक, जातीय विद्वेष और सिविल कोड का मुद्दा उठा रही है।
उपपा अध्यक्ष ने कहा कि यदि सरकार देश में समान नागरिक संहिता लागू करना चाहती है तो उसे इसके साथ सबको समान शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार के लिए समान अवसर, समान कार्य के लिए समान वेतन व सबको समान रूप से पेंशन देने का फैसला करना चाहिए। उपपा अध्यक्ष ने प्रबुद्ध जनों, संघर्षशील ताकतों से अपील की है कि राज्य बनने के बाद पिछले 23 वर्षों में राज्य की दुर्दशा के लिए जिम्मेदार कांग्रेस, भाजपा जैसे राष्ट्रीय दलों के स्थान पर उत्तराखंडी अस्मिता के लिए सतत संघर्ष कर रही उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी का सहयोग करें।
बैठक की अध्यक्षता पार्टी के केंद्रीय जिला उपाध्यक्ष किशन सिंह बिष्ट तथा संचालन नगर अध्यक्ष हीरा देवी ने किया। बैठक में पार्टी के केंद्रीय महासचिव एडवोकेट नारायण राम एवं अमीनुर्रहमान ने पार्टी कार्यकर्ताओं व सहयोगियों से 24, 25 तारीख को गैरसैंण पहुंचने की अपील की।
इस दौरान अल्मोड़ा क्षेत्र के साथियों ने अधिक से अधिक संख्या में गैरसैंण पहुंचने का फैसला किया।
बैठक में पार्टी के वरिष्ठ नेता वसीम अहमद, श्रीमती चंपा सुयाल, राजू गिरी, उछास युवा नेत्री सुनीता बिष्ट आदि उपस्थित रहे।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.