41 total views

उधम सिंह नगर मे ट्रेन की चपेट मे आने से दो युवकों की दर्दनाक मौत हो गई प्राप्त हो रही जानकारी के अनुसार किच्छा में गोला नदी पर रेलवे पुल के पास ट्रेन की चपेट में आने से पूर्व सांसद बीज प्रमाणीकरण बोर्ड के अध्यक्ष बलराज पासी के भांजे व उसके साथ एक अन्य युवकों की दर्दनाक मौत हो गयी। उनका तीसरा युवक ट्रेन की चपेट में आने से बाल बाल बच गया। घटना की लूचमा तत्काल पुलिस को दी गई । पुलिस ने मौके पर पहुच कर मृतकों के शव का पंचनामा भर कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।
यह घटना शनिवार रात की बताई जा रही है । पुलिस को 112 पर ट्रेन की चपेट में दो युवकों के आने की सूचना दी गई , जिसके बाद आनन -फानन में किच्छा पुलिस पहले सिरोली फाटक तक पटरी किनारे काम्बिंग करते पहुंची। वहां कुछ नही मिला तो उन्होंने पुलभट्टा पुलिस को सूचना दी।इसी दौरान उनको डायल 112 पर सूचना देने वाला योगेश मैनाली पुत्र हरीश चंद्र निवासी फ़ायर स्टेशन रुद्रपुर भी मिल गया। उसके साथ पुलिस जब गोला पुल पर पहुंची तो दोनों के क्षत बिछत शव बरामद कर लिया।
उनकी शिनाख्त योगेश मैनाली ने मिक्कू कक्कड़ उर्फ तपस्वी आयु 25 वर्ष पुत्र सुनील कुमार निवासी आदर्श कालोनी वार्ड नंबर 13 रुद्रपुर व रोहित मिर्धा आयु 26 वर्ष पुत्र दिनेश मिर्धा निवासी डिबडिबा थाना बिलासपुर जनपद रामपुर उत्तर प्रदेश बताया।वही मिक्कू कक्कड़ उर्फ तपस्वी पूर्व सांसद व बीज प्रमाणीकरण बोर्ड के अध्यक्ष बलराज पासी का भांजा है।योगेश ने पुलिस को बताया वह रोहित की बाइक से रोहित के रिश्तेदार की शादी में सितारगंज जाते समय पुराना बरेली मार्ग पर गोला नदी पर बने रेलवे के पुल पर बाइक खड़ी कर चले गए।इसी दौरान दोनों किच्छा की तरफ से आ रही ट्रेन की चपेट में आ गए। योगेश किसी तरह ट्रेन की चपेट में आने से बाल बाल बच गया। पुलिस ने रात ही शव रुद्रपुर स्थित मोर्चरी भिजवा दिया था। रविवार सुबह पुलिस ने स्वजनों की मौजूदगी में शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम की कार्रवाई की। पुलिस योगेश मैनाली से पुलभट्टा थाने में घटना की जानकारी लेने में लगी है दुर्घटना के बाद योगेश इस कदर बदहवास होकर रात के अंधेरे में सूनसान स्थान पर घूमता रहा। उसने दस बजे डायल 112 पर सूचना दी। माना जा रहा है कि इससे पूर्व लगभग साढ़े नौ बजे पैसेंजर ट्रेन की चपेट में आने से हादसा हुआ होगा।पहले एसएसआई किच्छा विनोद फर्तयाल पुलिस फोर्स के साथ सिरोली कलां रेलवे क्रासिंग तक पटरी पर शव तलाशती रही। जब उनको शव नहीं मिले तो पुलभट्टा पुलिस को सूचित किया। जिस पर एसओ कमलेश भट्ट शव की तलाश करते रहे। रात्रि लगभग 12 बजे शव बरामद किए जा सके।इस घटना की सूचना युवकों के परिजनों को दी गई । परिजनों पर दुख का पहाड टूट पडा है उनका रो- रो कर बूरा हाल है

Leave a Reply

Your email address will not be published.