Loading


अल्मोड़ा-पूर्व दर्जामंत्री व काग्रेस नेता बिट्टू कर्नाटक ने आज नितिन गडकरी केन्द्रीय सड़क परिवहन राजमार्ग व जहाजरानी मंत्री, भारत सरकार नयी दिल्ली को जिलाधिकारी के माध्यम से ज्ञापन प्रेषित किया।ज्ञापन के माध्यम से कहा गया कि पर्वतीय राज्य उत्तराखण्ड के ऐतिहासिक नगर अल्मोडा में राष्ट्रीय राजमार्ग एन.एच.87 एक्सटेंशन में क्वारब- कोसी (जो चौंसली से कोसी तक निर्मित है) तथा अपर पाण्डेखोला-धार की‌ तूनी-शैल-एन.डी. राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 309 A एक्सटेंशन को शहर से बाहर पृथक से बाईपास बनाया जाए।ज्ञापन के माध्यम से कहा गया कि उपर्युक्त विषयक के संदर्भ में मेरे द्वारा पूर्व में अनेकों बार आपकी सेवा में ज्ञापन प्रेषित कर इस प्रकरण को संज्ञान में लाया गया था कि पर्वतीय राज्य उत्तराखण्ड के कुमांऊ क्षेत्र के प्राचीन ऐतिहासिक नगर अल्मोडा में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 109 ( पूर्व एन. एच. संख्या – 87 ) के अन्तर्गत क्वारब- अल्मोडा – कोसी का चौडीकरण प्रस्तावित है।लोअर माल बनने से पूर्व ही आम नागरिकों ने अपने जीवन की समस्त पूंजी लगाकर अपना मकान बनाया तथा रोजी-रोटी के लिये छोटी दुकान खोलकर व्यवसाय करने लगे। अब राष्ट्रीय राजमार्ग के तहत सड़क के चौड़ीकरण से ये भवन स्वामी भयभीत हैं जहां उन्हें मकान के टूटने का खतरा है वहीं व्यवसाय से चल रही रोजी-रोटी छिनने की आंशका है।स्थानीय नागरिकों का उत्पीडन न हो इसके लिये एक प्रतिनिधि मण्डल हरीश रावत पूर्व मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड के नेतृत्व में जिसमें महेन्द्र सिंह महरा सांसद राज्यसभा,प्रदीप टम्टा सांसद राज्यसभा एवं स्वयं मैंने भी आपसे वार्तालाप कर इस समस्या का तत्काल निदान किये जाने का अनुरोध किया था।यह वार्ता बेहद सकारात्मक रही और आप द्वारा प्रतिनिधि मण्डल को पूर्ण आश्वासन दिया गया कि उक्त राष्ट्रीय राजमार्ग को जनहित में अल्मोड़ा नगर से न लाकर बाईपास के रूप में चौंसली से कोसी बनाया जायेगा।आपसे हुई सकारात्मक वार्ता के क्रम में राष्ट्रीय राजमार्ग एवं अवसंरचना विकास निगम लि.मंत्रालय के प्रतिनिधियों व सलाहकारों ने भी चौंसली- कोसी सड़क का निरीक्षण किया।जिसे इन अधिकारियों द्वारा राष्ट्रीय राजमार्ग के बाईपास हेतु उचित पाया गया।आपको यह भी अवगत कराना है कि राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 309 ए के अन्तर्गत अपर पाण्डेखोला- मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय-धारकीतूनी-शैल-एन. टी. डी. सड़क का चौड़ीकरण प्रस्तावित है।
उपरोक्त परिपेक्ष्य में स्थानीय नागरिकों की जनभावनाओं को देखते हुये आपसे पुनः अनुरोध है कि वर्तमान समय में क्वारव – कोसी मोटर मार्ग जो चोंसली से कोसी तक प्रस्तावित है को राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 109 का बाईपास घोषित करते हुये डबल लेन में परिवर्तित किये जाने तथा राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 309 “ए” के अन्तर्गत अपर पाण्डेखोला मुख्य चिकित्साधिकारी कार्यालय धार की तूनी -शैल-एन.टी.डी. से न लाकर शहर से बाहर जाने हेतु पृथक से बाईपास बनाये जाने के आदेश तत्काल निर्गत करने की कृपा करें।जिससे स्थानीय निवासियों के पूर्व निर्मित मकानों को क्षति न पहुंचे और पूर्ववत् छोटे-छोटे व्यवसाय से अपने परिवार का भरण पोषण कर सकें।साथ ही उक्त क्षेत्र में पलायन एवं आम नागरिकों के घरों व व्यवसाय को बचाया जा सके।कहा कि आपके संज्ञान में लाना है कि विगत तीन दिन पूर्व राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों द्वारा अल्मोडा विधानसभा में अनेकों क्षेत्रों जैसे लोधिया,होली ऐंजिल,खत्याडी आदि स्थानों में नाप-जोप कर अतिक्रमण के नाम पर व्यापारियों को नोटिस देकर 24 घंटे में स्थान खाली करने के निर्देश देकर उनका उत्पीड़न किये जाने का प्रयास किया गया।व्यापारियों द्वारा इसका पुरजोर विरोध करते हुये उग्र आन्दोलन किया गया जिसे देखते हुये स्थानीय प्रशासन एवं राष्ट्रीय राजमार्ग के अधिकारियों द्वारा फिलहाल इसे स्थगित कर दिया गया।ज्ञापन के माध्यम से निवेदन किया गया कि उक्त मार्गो में होने वाले चौडीकरण से पूर्व बाईपास का प्रावधान कर अल्मोडा विधानसभा क्षेत्र में नागरिकों को राहत प्रदान करने की कृपा करेंगे।जिससे अल्मोडा नगर एवं उसके आस-पास के लोगों को तत्काल प्रभाव से राहत मिल सके।स्थानीय नागरिकों,व्यापारियों, जनप्रतिनिधियों द्वारा निर्णय लिया गया है कि अतिक्रमण के नाम पर व्यापारियों तथा स्थानीय नागरिकों का उत्पीडन बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। यदि पुनः इस प्रकार की कार्यवाही की गयी तो उग्र आन्दोलन,आमरण अनशन (भूख हडताल) चक्का जाम जैसा कदम उठाने को बाध्य होना पडेगा जिसकी पूर्ण जिम्मेदारी प्रशासन व केन्द्र सरकार की होगी।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.