Loading

काफलीखान (अल्मोड़ा )।भनोली तहसील के अंतर्गत काफलीखान कस्बे में शराब की दुकान के विरोध में ग्रामीणों का धरना जिला आबकारीअधिकारी श्री मर्तोलिया की वार्ता के बाद 2 दिन के लिए टला गया।
देर शाम जिला आबकारी अधिकारी श्री मर्तोलिया धरना स्थल पर पहुंचे ,ग्रामीणों के साथ वार्ता की गई। वार्ता में धौलादेवी ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि व भाजपा के वरिष्ठ नेता नरेंद्र सिंह बिष्ट ने ग्रामीणों का पक्ष रखकर वार्ता की। वार्ता इस निर्णय पर पहुंची कि 2 दिन के लिए धरना समाप्त कर दिया जाए। दो दिन के बाद शराब की दुकान को अंयत्र शिफ्ट कर देंगे। जिला आबकारी अधिकारी के इस आश्वासन से ग्रामीणों ने 2 दिन लिए अपना धरना समाप्त कर दिया। जिला कार्य अधिकारी से वार्ता में श्री बिष्ट का अहम योगदान रहा ,इस योगदान से ग्रामीण काफी खुश रहे।

इसे पूर्व बुधवार को ग्रामीणों के धरना प्रदर्शन स्थल शराब की दुकान के विरोध में अपना समर्थन देने पहुंचे उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के संयोजक पी सी तिवारी ने अपने कार्यकर्ताओं के साथ भागीदारी की । धरना स्थल में ग्रामीणों को संबोधित करते हुए श्री तिवारी ने कहा कि यह सरकार रोजगार शिक्षा, चिकित्सा, स्वास्थ्य, पेयजल आदि जरूरत को पूरा करने में नाकाम रही है । जबकि गरीब परिवारों ,समाज व देश को बर्बाद करने के लिए जगह-जगह शराब की दुकाने खोल रही है । सरकार की इस गलत नीति के कारण परिवारे बर्बाद हो रही है । शासन प्रशासन को ग्रामीणों की उचित मांग को देखते हुए शराब की दुकान को तत्काल बंद करना होगा। ऐसा न करने पर आंदोलन को बड़ा करना होगा।उत्तराखंड सरकार, क्षेत्रीय विधायक व जिला प्रशासन पर कटाक्ष करते हुए कहा कि गरीबों की मांग को अनसुना करने का इसका खामियाजा भविष्य में चुकाना पड़ेगा। जबकि प्रधान राजेंद्र प्रसाद ने अपने संबोधन में कहा कि ग्रामीणों ने बहुत पहले तहसील व जिला प्रशासन को शराब की दुकान के विरोध में ज्ञापन दिया था। जिसकी आज तक सुनवाई नहीं हुई । इस स्थिति में आंदोलन तेज किया जाएगा। ताकि शासन प्रशासन ग्रामीणों की आवाज सुन सके, तथा हमें उचित न्याय मिल सके। जबकि पुलिस ने भी धरना स्थल का मौका पहुंच कर शांति व्यवस्था की समीक्षा की।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.