43 total views

अल्मोड़ा किसान आन्दोलन को समर्थन देते हुए उत्तराखण्ड लोक वाहिनी के वरिष्ट नेता जगत रौतेला ने कहा है कि केन्द्र सरकार ने आन्दोलित किसानों को पूर्व में जो आश्वाशन दिये थे उसके अनुरूप किसानों की न्यायोचित मांगों को मान लेना चाहिये. उ लो वा का कहना है कि आज यदि देश खाद्यान्न के मामले मे आत्म निर्भर है और 80करोड़ लोगों को सरकार यदि मुफ्त राशन दे रही है तो यह किसानों की ही मेहनत का नतीजा है. अत: किसानों का दमन न्यायोचित नही है. सरकार को किसानों की लम्बे समय से चली आ रही एम एस पी की मांग को मान लेना चाहिये तथा कृषि क्षेत्र को और अधिक सुविधाये दी जानी चाहिये. दिल्ली को जोडने वाली सड़को को जिस प्रकार सरकार द्वारा अवरुद्ध किया जा रहा है उससे आम नागरिक भी प्रभावित हो रहे है , उन्होंने कहा है कि उ लो वा किसानों के न्यायोचित मांगों का समर्थन करती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.