50 total views


अल्मोड़ा-कांग्रेस के पूर्व ब्लाक अध्यक्ष एवं वर्तमान में कांग्रेस जिला महामंत्री दीवान सतवाल ने प्रेस को जारी एक बयान में कहा कि लगभग दो सप्ताह से कपिलेश्वर वानड़ी देवी पंपिंग योजना के पंप खराबी कारण नहीं चल पा रहे थे जिस कारण दर्जनों ग्रामवासी पेयजल की आपूर्ति से बाधित थे। जब उनके द्वारा विगत दिवस जल संस्थान विभाग को 24 घंटे का अल्टीमेटम दिया गया कि कपिलेश्वर वानड़ी देवी पंपिंग योजना से पेयजल व्यवस्था सुचारु न होने पर वे जल संस्थान कार्यालय में अनिश्चितकालीन धरना करेंगे तब जल संस्थान विभाग नींद से जागा। प्रशासन और विभाग में हड़कंप मचा और दिन-रात एक कर आनन फानन में विगत सायं 6 बजे जल संस्थान के द्वारा एक पंप ठीक करा कर पेयजल आपूर्ति सुचारू की गई। सतवाल ने कहा कि अभी भी वैकल्पिक व्यवस्था चल रही है।योजना के जब तक दोनों पंप बदलकर नए पंप नहीं लगाए जाएंगे तब तक सुचारू पेयजल व्यवस्था नहीं हो पाएगी। उन्होंने कहा कि लगातार क्षेत्र की समस्या को उठाने में उनके द्वारा कोई भी कोर कसर नहीं छोड़ी जाएगी।यह पेयजल योजना क्षेत्र के लिए संजीवनी है। वहीं पूर्व विधानसभा अध्यक्ष गोविंद सिंह कुंजवाल ने कहा कि इस पेयजल योजना से दर्जनों गांवों की पेयजल आपूर्ति होती है।लेकिन विभाग की उदासीनता के चलते इस बड़ी योजना को सुचारू रखने में कठिनाइयां उत्पन्न हो रही है।उन्होंने कहा कि जल संस्थान विभाग को उक्त योजना में दोनों नए पंप लगाने चाहिए। उन्होंने कहा कि दो सप्ताह से कपिलेश्वर बानड़ी देवी पंपिंग योजना का पंप खराब होने से दर्जनों ग्रामवासी पेयजल किल्लत का सामना कर रहे थे। विगत दिवस जब कांग्रेस जिला महामंत्री दीवान सतवाल ने जल संस्थान विभाग को चेतावनी देते हुए कहा कि यदि 24 घंटे के भीतर कपिलेश्वर बानड़ीदेवी देवी पंपिंग योजना को सुचारू नहीं किया गया तो वह जल संस्थान विभाग में अनिश्चितकालीन धरना देंगे।उनकी चेतावनी से विभाग हरकत में आया और कहीं से एक पुराना पंप लगाकर इतिश्री कर ली। उन्होंने कहा कि जो पंप विभाग ने लगाया है वह पुराना पंप है जो कभी भी खराब हो सकता है। इसलिए विभाग अपनी जिम्मेदारी को समझें और कपिलेश्वर बानड़ीदेवी पंपिंग योजना में दोनों नए पंप लगाए, जिससे इस महत्वपूर्ण योजना का लाभ दर्जनों ग्राम वासियों को मिल सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published.