Loading

वरिष्ट पत्रकार जगमोहन रौतेला की पत्नी रीता खनका रौतेला का कैन्सर की बिमारी से निधन हो गया वह पिछले दो वर्षों से कैन्सर की इस विमारी से जूझ रही थी , । उनके निधन पर आयोजित शोक सभा मे पत्रकार व वाहिनी के प्रवक्ता दयाकृष्ण काण्डपाल ने कहा कि वह पिछले दो वर्षो से कैन्सर की बिमारी से जूझ रही थी कई बार ऐसे मौके आये जब उन्होंने मौत को मात दी थी वह फिर से उठ खड़ी हुई थी पर इस बार जब कीमों थिरेपी हुई तो वह उठ ही नही पाई । और हमेशा के लिये शान्त हो गई , पत्रकार जगमोहन उनके विमारी की दिनो की तस्वीरे व बीड़ियो साझा करते रहे ,। हर बार रीता अपने इस कष्ट को कमतर दिखाती हुई दिखी , उन्होंने तय किया कि कैंन्सर जैसी असाध्य विमारी को यदि वह मात नही दे सकी तो भी अपने देह को सुशीला तिवारी मे़ड़िकल कालेज हल्द्वानी को दान कर देंगी । भाई जगमोहन रौतेला ने उनकी इस इच्छा को पूरा कर दिया , अब रीता खनका मेड़िकल कालेज मे अपना शरीर छात्रों के लिये छोड़ गई है ।यदि संम्भव हुवा तो छात्र इस बात का पता लगाईगे कि कैन्सर के रोग का उपचार क्या है

लेखिका रीता खनका , आने वाली पीढियों के लिये पठन साहित्य , व लेख छोडकर गई है , व अपनी पुत्री व पति को छोडकर संसार से बिदा हो गई उनके निधन पर उत्तराखण्ड़ लोक वाहिनी , ने गहरा दुख ब्यक्त किया है तथा शोक ब्यक्त किया परिवार के लिये हार्दिक संवेदना ब्यक्त की है , एड़ जगत रौतेला की अध्यक्षता मे शोक सभा आयोजित हुई । जिसमे दयाकृष्ण काण्डपाल , एड जगत रौतेला , पूरन चन्द्र तिवारी , अजय मित्र सिंह बिष्ट , अजय.रौतेला , रेवा बिष्ट , मुहम्मद हारिस , कुणाल तिवारी आदि शामिल रहे ।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.