Loading

अल्मोड़ा थानाध्यक्ष महिला थाना ने राजकीय नर्सिंग कॉलेज अल्मोड़ा में जागरुकता अभियान चलाया इस अवसर पर छात्र-छात्राओं को साईबर क्राईम, नशे के दुष्प्रभाव, सड़क सुरक्षा, गौरा शक्ति, हेल्पलाइन नंबर आदि विषयों पर महत्त्वपूर्ण जानकारिया दी ।

देवेन्द्र पींचा, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अल्मोड़ा द्वारा छात्र-छात्राओं व आमजन को अपराधों एवं सुरक्षा के प्रति जागरुक किए जाने हेतु जनपद स्तर पर वृहद जागरूकता अभियान चलाया गया है। दिनांक 25.01.2024 को थानाध्यक्ष महिला थाना सुश्री मीना आर्या* द्वारा थाने के पुलिसकर्मियों म0कानि0 लखविंदर, कानि0 अनिल कुमार व होमगार्ड जीवन सिंह बिष्ट के साथ अल्मोड़ा के राजकीय नर्सिंग कॉलेज में जागरुकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। जागरुकता कार्यक्रम में छात्र-छात्राओं* को वर्तमान में विभिन्न माध्यमों से घटित हो रहे साईबर क्राईम के प्रति जागरूक करते हुए फोन कॉल पर किसी भी व्यक्ति को अपने बैंक खाता, एटीएम कार्ड, ओटीपी आदि की जानकारी नही देने और न ही किसी अंजान लिंक व क्यूआर कोड को स्कैन करने के बारे में बताते हुए सुरक्षा के अन्य तरीके बताए गए तथा इस जानकारी को अपने परिजनों व परिचितों को बताकर उनको जागरुक करने हेतु प्रेरित किया गया। सड़क सुरक्षा के प्रति जागरुक करते हुए यातायात नियमों* की जानकारी देकर हमेशा पालन करने हेतु प्रेरित किया गया तथा गुड समेरिटन स्कीम* के संबंध में जानकारी देकर सड़क दुर्घटना में घायलों की मदद करने हेतु प्रोत्साहित किया गया। *नशे के दुष्प्रभावों* से जागरूक करते हुए नशे से हमेशा दूर रहने तथा गांव व आस-पास नशे से सम्बंधित सामान बेचने वालों की सूचना पुलिस को देने हेतु बताया गया। *इस दौरान छात्राओं को महिलाओं से सम्बन्धित अपराधों यौन उत्पीड़न, घरेलू हिंसा,मानव तस्करी आदि के बारे में बताकर उनके अधिकारों/कानूनी प्रावधानों की जानकारी दी गई तथा सोशल मीडिया के प्रयोग* के सम्बन्ध में जागरुक करते हुए किसी भी अंजान व्यक्ति से बात नहीं करने और अपनी निजी जानकारी किसी से शेयर नहीं करने हेतु बताया गया और छात्राओं एवं अध्यापिकाओं को उनकी सुरक्षा के प्रति सजग करते हुए गौरा शक्ति माँड्यूल व इसकी उपयोगिता के बारे में जानकारी देकर गौरा शक्ति में रजिस्ट्रेशन करवाया गया तथा विषम परिस्थितियों में इसका उपयोग करने हेतु बताया गया। इसके उपरांत सभी को नजदीकी थाना/ चौकी के हेल्पलाइन नंबर व पुलिस हेल्पलाइन नंबर डायल 112, साईबर क्राईम हेल्पलाईन नंबर-1930, महिला हेल्पलाईन नंबर 1090 की जानकारी दी गई और कोई भी समस्या/शिकायत होने पर तत्काल सूचना देने हेतु बताया गया। इस दौरान कॉलेज के लगभग 250 छात्र-छात्राएं उपस्थित रहे अल्मोड़ा पुलिस द्वारा चलाए गये जागरूकता कार्यक्रम की नर्सिंग स्टॉफ ने सराहना कर आभार व्यक्त किया।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.