Loading

अल्मोड़ा, 24 मई 2024 जिलाधिकारी विनीत तोमर ने आज जिला योजना वर्ष 2024-25 में विभागों द्वारा प्रस्तावित कार्यों की समीक्षा कलेक्ट्रेट सभागार में समस्त अधिकारियों के साथ बैठक करके की।

इस दौरान जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि विभागीय अधिकारी जिला योजना में सिर्फ वही कार्य प्रस्तावित करें, जो जनउपयोगी हों तथा धरातल पर जिनकी आवश्यकता हो। जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि अधिकारी यह भी देखें कि यदि जनप्रतिनिधियों द्वारा प्रस्तावित कार्यों के अलावा उनकी दृष्टि में कोई अन्य कार्य जनउपयोगी है तो उसका प्रस्ताव भी प्रस्तुत करें। उन्होंने कहा प्रस्तावित कार्य की व्याहारिकता भी देखें एवं यदि उन्हें ऐसा लग रहा है कि कोई कार्य व्यवहारिक रूप से आवश्यक नहीं है, तो उस कार्य के स्थान पर अन्य कार्य प्रस्तावित किया जाए।
जिलाधिकारी ने कृषि विभाग को समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि उनके द्वारा जो घेरबाड़ के कार्य प्रस्तावित हैं, उन कार्यों को इस प्रकार किया जाए कि अधिक से अधिक खेती को जंगली जानवरों से सुरक्षा प्रदान की जा सके। उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक किसानों को कार्यों का लाभ मिले, ऐसी योजनाएं ही प्रस्तावित हों।
जिलाधिकारी ने कार्यदाई संस्थाओं के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि वें जिस कार्य को भी जिला योजना में प्रस्तावित करेंगे, उनमें यह सुनिश्चित कर लिया जाए कि सम्पूर्ण कार्य का टेंडर हो, प्रतिवर्ष के हिसाब से टेंडर न किए जाएं।
वर्ष 2024- 25 की जिला योजना के लिए जनपद का बजट 7475.70 लाख रुपए है।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी आकांक्षा कोंडे, जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी रेनू भंडारी, जिला विकास अधिकारी एसके पंत, समेत अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.