21 total views

अल्मोड़ा दिनांक 31 जनवरी , 2024
जिलाधिकारी विनीत तोमर की अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक कलेक्ट्रेट में सम्पन्न हुई। बैठक में जिलाधिकारी ने सभी निर्माणाधीन विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये कि जनपद के अन्तर्गत राष्टीय/राज्य राज मार्गों का रोड सेफ्टी ऑडिट का लक्ष्य निर्धारित करते हुये अपूर्ण मोटर मार्गों का कार्य समय से पूर्ण किया जाय। उन्होंने सभी अधिकारियों को निर्देश दिये कि राष्टीय सड़क मार्ग व फुटपाथ पर हुये अतिक्रमणों को हटाने कार्यवाही की जाए।
समीक्षा के दौरान उन्होंने संबंधितों को निर्देश दिए कि प्रवर्तन की गतिविधियों को बढ़ाया जाए। उन्होंने यातायात नियमों की अनदेखी करने वालों पर कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। उन्होंने कहा कि जनपद में सड़क दुर्घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए सड़क सुरक्षा तंत्र को प्रभावी बनाते हुए शून्य दुर्घटना विजन स्थापित करना सुनिश्चित करें। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि दुर्घटनाओं की मजिस्ट्रीयल जांच समयबद्धता के साथ करते हुये पोर्टल पर अपलोड की जाए। जिलाधिकारी ने दुर्घटना संभावित स्थलों पर क्रेश बैरियर लगाने, वाहन चालकों के लाईसेंस की जांच व वाहनों की निरंतर फिटनेस विश्लेषण व मोटरयान कानून का उल्लंघन करने वालों पर सख्त कार्रवाई करते हुए वाहन चालको का समय-समय पर चिकित्सकीय परीक्षण भी कराने के निर्देश पुलिस विभाग, संभागीय परिवहन के अधिकारियों को दिए। जिलाधिकारी ने दुर्घटना संभावित स्थानों पर किए जाने वाले सुरक्षात्मक कार्याे को समयबद्धता से करने के निर्देश कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारियो को दिये।
बैठक में जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये के जनपद में संचालित 108 एम्बुलेंस व अन्य एम्बुलेंस व्यवस्था को सुदृढ रखा जाय। उन्होंने निर्देश दिये कि समय-समय पर वाहनों में आने वाली तकनीकी समस्याओं के लिये सम्बन्धित विभाग से पत्राचार किया जाय ताकि वाहनों के संचालन में किसी प्रकार की समस्या उत्पन्न न हो। उन्होंने सभी कार्यदायी संस्थाओं के अधिकारियों को निर्देश दिये कि निर्धारित स्थानों पर गति सीमा के साइन बोर्ड लगाये जाय। बैठक में अधीक्षण अभियंता पीडब्ल्यूडी डीएस ह्यांकी, सम्भागीय परिवहन अधिकारी गुरु देव सिंह, उपजिलाधिकारी जैंती भनोली एनएस नगन्याल सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.