पत्रकारों के लिये बनाये गयॆ प्रेस क्लब की दुर्गति पर सेसियल मीड़िया मे उठने लगे सवाल

 33 total views

उत्तराखण्ड़ राज्य बनने के बाद ही अल्मोड़ा में पत्रकारों के बीच अपने लोगों के उठने बैठने के लिये प्रेस क्लब बनाने की इच्छा जागृत हुई , वरिष्ट पत्रकार दयाशंकर टम्टा के साथ उस समय के श्रमजीवी पत्रकारों ने इसकी पहल की स्व पी सी जोशी की अध्यक्षता में प्रेस क्लब गठित हुवा ,प्रेस क्लब का शानदार भवन भी बन गया , यह सामाजिक कार्यों के लिये एक प्रमुख स्थल के रूप बिकसित हुवा इसे यह स्वरूप देने मे पी सी जोशी के साथ प्रकाश पन्त , का योगदान अविस्मरणीय है । इसे सुसज्जित करने में मे उत्तरोत्तर बनने वाली समितियों का योगदान है ,

इन दिनों प्रेस क्लब की सक्रियता नबी चल रही है दिसको लेकर पक्रकारों मे चिन्ता तो है ही पर प्रेस क्लब का मुद्दा अब सोसियल मीडिया का विषय बन गया है । इसके आसपास जमा कूड़ा चर्चा का बिषय बन गया है । इस प्रकरण पर श्रमजीवी पत्रकार युनियन की बैठकों में भी चर्चा होती है पर समाधान तो पदाधिकारियों को ही करना है ,

श्रमजीवी पत्रकार यूनियन के महासचिव दयाकृष्ण काण्ड़पाल ने सभी पत्रकारों से अपील की है कि इस हेतु संयुक्त बैठक आयोजिक करने पर बिचार करें ।