Loading

अल्मोड़ा , अंकिता हत्याकाण्ड मेराजनैतिक रसूक के चलते उत्तराखण्ड की सरकार स्थानीय  पटवारी को रिपोर्ट देने के बावजूत भी , हील हवाली हुई पूर्व राज्य सभा सांसद प्रदीप टम्टा ने  राज्य सरकार पर आरोप लगाते हुवे कहा कि अंकिता के पीड़ित पिता मे संकेत कर दिया था कि उन्हे रिजोर्ट मालिक पर संन्देह  बै फिर भी कार्यवाही नही हुई  ।

उन्होंने कहा कि हत्या के बाद कार्यवाही मे चार पाँच दिन की  बिलम्ब  करना यह सावित करता है कि प्रशासन द्वारा  अपराधियों को सबूत नष्ट  करने की कोशिस की । यह आश्चर्य की बात है कि प्रशासन द्वारा बुल्डोजर चलाकर बचे हुवे  सबूत भी नस्ट तरने की कोशिस की गई ।  पौढी गढवाल  के डी एम का कहना है कि  डी एम के आदेश पर बुल्ड़ोजर नही चला पर सवाल  यह है कि बुल्डोजर किसके आदेश पर चला  अभी तक  अपराधियों को बचाने वालो पर कोई एफ आई आर दर्ज नही हुई ।

आज जबकि उत्तराखण्ड मे इतने  रिजोर्ट बन रहे है ।तब बशाखा गाईड लाईन का पालन क्यों नही किया गया । अब जबकि भवरी देवी मामले मे  देश के सुप्रिम केर्ट ने  गाईन लाईन  दी थी उसके बाद भी प्रदेश मे  गाईड लाईन नही बनी है ।

उत्तराखण्ड़ मे UKSSS के घोटालेबाजों के भी रिजोर्ट है जिनकू साख रसूखदार लोगों के  साथ रहे है उनके फोटोज मौजूद है । उन्होने अंकिता के साहस की सराहना करते हुवे  कहा कि उस बेटी मे अपनी जांन देकर भी अनैतिक कार्य नही किया  उत्तराखण्ड की बेटियां अपने  पैरो पर खड़ा होना  चाहती है  तो  इसके गाईड लाईन बननी चाहिये

राजस्व ब्यवस्था पर सवाल करते हुवे उन्होंने कहा कि बंकरनुमा रिजोर्टो मे पटवारी   अबैध धन्धो को कैसे रोक सकता है। एक महिने के  भीतर ही तीन बडे केश पाजस्व क्षेत्रों  मे घटित हुवे । फिर पुलिस ब्यवस्था लागू क्यों नही  की जा रही है । राज्य मे कितने रिजोर्ट है इस पर  श्वेत पत्र जारी करे, बिना अनुमति के  चल रहे रिजोर्टो पर क्या कार्यवाही हुई  इसे उजागर किया जाय । प्रेस वार्का मे विधायक मनोज तिवारी ,पूर्व ब्लाक प्रमुख रमेश भाकुनी , काग्रेस जिलाध्यक्ष पिताम्बर पाण्ड़े काग्रेस नगर  अध्यक्ष पूरन रौतेला , मनोज सनवाल सिकन्दर पवार , रोविन भण्डारी आदि मौजूद रहे ।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.