Loading

अल्मोड़ा 10 नवम्बर, 2023 जिलाधिकारी विनीत तोमर द्वारा जिला कार्यालय सभागार में मासिक समीक्षा स्टाफ बैठक कर जिले में राजस्व, अभियोजन कार्याे, कानून व्यवस्था, विभिन्न न्यायालयों में लंबित वादों, राजस्व प्राप्तियां, राजस्व वसूली, यातायात व्यवस्था, खाद्यान्न आपूर्ति, आपदा राहत कार्यों आदि कार्यों की तहसील एवं विभागवार समीक्षा करते हुए आवश्यक निर्देश अधिकारियों को दिए। बैठक में जिलाधिकारी ने जिले में कानून व्यवस्था आदि की समीक्षा करते हुए पुलिस एवं राजस्व विभाग को अपने क्षेत्रान्तर्गत कानून व्यवस्था बनाए रखते हुए अपराधों पर नियंत्रण बनाए रखने के निर्देश अधिकारियों को दिए। जिलाधिकारी ने कहा कि अपराधी द्वारा उससे किए गए अपराध की अवश्य सजा मिले इस हेतु न्यायालय में ठोस साक्ष्य व मजबूत पैरवी पेश की जाय।
बैठक में जिलाधिकारी ने विभिन्न न्यायालयों में दर्ज वादों की समीक्षा के दौरान कहा कि सभी उप जिला मजिस्ट्रेट, तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार अपने-अपने न्यायालय में दर्ज वादों का निस्तारण करें। जिलाधिकारी ने सभी उपजिलाधिकारियों व राजस्व विभाग से जुडे सभी अधिकारियों को निर्देश दिये कि 03 व 05 साल से अधिक लंबित वादों का निस्तारण तत्काल किया जाय। उन्होंने उपजिलाधिकारियों व सम्भागीय परिवहन अधिकारी को निर्देश दिये कि मजिस्ट्रियल जाँचों को अधिक समय तक लंबित न रखते हुये उनका समय पर निस्तारण किया जाय। उन्होंने सभी तहसीलदारांे को निर्देश दिये कि राजस्व वसूली मामलों में तेजी लाते हुये बकायदारों पर चालान की कार्यवाही लाई जाय इसके सभी अमीनों को राजस्व वसूली हेतु निर्देशित किया जाय।
जिलाधिकारी ने कहा कि जिले में अपराधों पर पूर्ण नियंत्रण रखने हेतु राजस्व एवं नियमित पुलिस संयुक्त रूप आपसी सहयोग से कार्य करें। उन्होंने सभी उपजिलाधिकारी अपने क्षेत्रान्तर्गत समय-समय पर क्षेत्रीय भ्रमण करने के साथ ही राजस्व कार्यों की समीक्षा बैठक करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी उपजिलाधिकारी अपने स्तर पर लंबित 143 के प्रकरणों के साथ ही विभागीय ऑडिट आपत्तितियों के अतिरिक्त माननीय मुख्यमंत्री से संदर्भ के मामलों का भी त्वरित गति से निस्तारण करें।
बैठक में जिलाधिकारी ने खाद्यान्न व्यवस्था के वितरण की समीक्षा करते हुए जिला पूर्ति अधिकारी को निर्देश दिए कि प्रत्येक गांव तक खाद्यान्न की आपूर्ति सुनिश्चित की जाय। इस दौरान जिलाधिकारी ने खाद्य सुरक्षा अधिकारी को निर्देश दिये कि समय-समय पर खाद्यान्नों से नमूने लिये जाय और उन्हें जॉच प्रयोगशाला में भेजा जाय। उन्होंने आबकारी विभाग की समीक्षा के दौरान जिले में अवैध शराब की बिक्री, स्मैक व चरस रोकथाम हेतु सभी एसडीएम पुलिस के साथ मिलकर एक अभियान चलायें। बैठक में संयुक्त मजिस्टेट रानीखेत जय किशन, अपर जिलाधिकारी चन्द्र सिंह मतौलिया, उपजिलाधिकारी सदर जयवर्धन शर्मा, भिकियासैण सीमा विश्वकर्मा, द्वाराहाट सुनील कुमार, सल्ट चन्द्रशेखर सहित सभी तहसीलों को तहसीलदार व विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.