Loading


अल्मोड़ा गरुड़ाबाज भनोली – धौलादेवी क्षेत्र की जन समस्याओं के निराकरण की मांग को लेकर उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी के कार्यकर्ताओं ने तहसील मुख्यालय गरुड़ाबाज में धरना कर प्रदेश के मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा। जिसमें क्षेत्र को जंगली जानवरों से मुक्ति दिलाने, स्कूलों में शिक्षकों की कमी दूर करने, अस्पतालों में मूलभूत सुविधाएं देने, विकास कार्यों में भ्रष्टाचार को दूर करने की मांग की गई।
पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार उपपा के ब्लॉक संरक्षक आंदोलनकारी श्री बसंत सिंह खनी एवं महासचिव श्री कौस्तुभानंद भट्ट के नेतृत्व में गरुड़ाबाज में दिन भर धरना प्रदर्शन किया गया। धरने में उपपा की केंद्रीय उपाध्यक्ष श्रीमती आनंदी वर्मा एवं उपपा के केंद्रीय महासचिव एडवोकेट नारायण राम भी शामिल हुए। इस मौके पर वक्ताओं ने कहा गत वर्ष 24 नवंबर को क्वेराली में गुलदार ने एक बच्चे को अपना निवाला बनाया था किंतु उसके परिवार को 25 लाख का मुआवजा व नौकरी देने व जंगली जानवरों द्वारा मारे गए मवेशियों का मुआवजा देने की मांग अभी तक भी पूरी नहीं हुई।
वक्ताओं ने कहा कि क्षेत्र में वैध, अवैध शराब के कारण लोगों का जीवन दूभर है पर इस ओर प्रशासन ध्यान नहीं दे रहा है। स्कूलों में अध्यापकों की कमी है। अस्पतालों में अल्ट्रासाउंड, एक्स-रे की मशीन की व्यवस्था तक नहीं है। सूअर और जंगली जानवरों से खेती चौपट है और हर घर नल, हर घर जल योजना में भारी अनियमितताएं व्याप्त हैं। बीते दिनों बारिश की कमी के चलते सूखा पड़ा है किंतु सरकार की ओर से कोई राहत नहीं मिली है। क्षेत्र में युवा बेरोजगारी के कारण परेशान हैं उन्हें काम देने की कोई व्यवस्था नहीं है जिसके लिए ठोस नीति बनानी चाहिए।
धरने के बाद उपपा कार्यकर्ताओं ने तहसीलदार के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा। उन्होंने कहा कि इससे पूर्व पार्टी ने 3 जनवरी 2023 को धरना प्रदर्शन किया था पर सरकार ने ओर ध्यान नहीं दिया। ज्ञापन में सड़क मार्गों, शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार के साथ योजनाओं में व्याप्त भ्रष्टाचार में अंकुश लगाने व जनता को एकजुट कर संघर्ष शुरू करने की चेतावनी दी गई। इस मौके पर उपपा की केंद्रीय उपाध्यक्ष श्रीमती आनंदी वर्मा, केंद्रीय महासचिव एडवोकेट नारायण राम जी ने कहा कि जनता के पक्ष में लगातार संघर्ष करने वाली उपपा ही जनता की आवाज बुलंद कर सकती है। जनता को उसका सहयोग करना चाहिए। इस कार्यक्रम में बसंत खनी, शिवराज, शिव सिंह, राम सिंह, चंपा सुयाल, शिव दत्त, रेवाधर जोशी, चंदन सिंह खनी, दीवान राम, बसंत राम, शेर सिंह खनी, हंसा लाल, गोपाल सिंह, पंकज भट्ट, कृष्ण चंद्र भट्ट, राम सिंह, दीपक सिंह, किशन सिंह, मोहन चंद्र पांडे, बलवंत सिंह, उमेद सिंह, गोपाल सिंह, बिशन सिंह भैसोड़ा, भुवन चन्द्र, अमरनाथ आदि लोग उपस्थित रहे।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.