25 total views

अल्मोड़ा एसएसपी अल्मोड़ा के कुशल नेतृत्व में अल्मोड़ा पुलिस का नशे के सौदागरों पर कड़ा प्रहार जारी है ।पुलिस ने इसी श्रंखला मे
गांजा,शराब के बाद अब स्मैक तस्कर को  गिरफ्तार किया जनपद ANTF/SOG व अल्मोड़ा पुलिस की संयुक्त टीम को बड़ी  कामयाबी,  मिली  पुलिस मे जनपद में स्मैक की अब तक की सबसे बड़ी खेप पकड़ी जिसकी कीमत 32 लाख  आंकी गई पुलिस ने  320 ग्राम स्मैक के साथ शाहजहांपुर का 01 तस्कर को  गिरफ्तार, किया  इसका ईरादा पहाड़ी क्षेत्रों में इसे  ऊंचे दामों में   बेचकर मुनाफा कमाने था । इस उपलब्धि पर एसएसपी ने पुलिस टीम को 5 हजार के ईनाम से किया पुरस्कृत मा0 मुख्यमंत्री उत्तराखण्ड, पुष्कर सिंह धामी द्वारा प्रदेश को वर्ष 2025 तक नशामुक्त करने हेतु "ड्रग्स फ्री देवभूमि मिशन 2025" प्रारम्भ किया गया है।


इस अवसर पर एक प्रेस वार्ता में  एस एस पी ने बताया कि पूर्व में पकड़े गये अभियुक्त व नशे की गिरफ्त में फँसे युवाओं की करायी जा रही काउंसलिंग में प्रकाश में आये तथ्यों से यह ज्ञात हुआ कि नशे का कारोबार फैलाने के लिए तराई क्षेत्रों से तस्कर बड़ी मात्रा में स्मैक लाकर पहाड़ों में लोगों को बेच रहे हैं, साथ ही यह भी तथ्य सामने आये थे कि तस्कर अक्सर रात्रि के समय बाईक या अन्य वाहनों के जरिये आते है ताकि चेकिंग आदि से बच सके, जिसके चलते एसएसपी द्वारा एएनटीएफ/एसओजी की टीम को रात्रि में अधिक सतर्कता बरतते हुए संदिग्ध वाहनों/व्यक्तियों की चेकिंग करने के निर्देश दिये गये थे, जिसके क्रम में एएनटीएफ/एसओजी व कोतवाली अल्मोड़ा की पुलिस टीम द्वारा चेकिंग के दौरान लोधिया से क्वारब की ओर धर्मकांटे के पास मोड़ पर एक बाईक सवार को रोका गया,जिसकी संदिग्ध प्रतिक्रिया के चलते सख्ती से पूछताछ की गयी तो पकड़े गये व्यक्ति ने स्वयं के पास स्मैक होने की बात पुलिस को बतायी, जिसकी सूचना पुलिस टीम द्वारा उच्चाधिकारीगणों को दी गयी,जिसके चलते क्षेत्राधिकारी अल्मोड़ा स्वयं मौके पर पहुँचे व अभियुक्त की तलाशी में उसके पास से 320 ग्राम स्मैक व एक इलैक्ट्रानिक तराजू बरामद हुआ। भारी मात्रा में बरामद हुई स्मैक के बारे में अभियुक्त से पूछने पर उसके द्वारा बताया गया कि वह स्मैक बेरा फरीदपुर से एक व्यक्ति से लेकर आ रहा है। अभियुक्त का उद्देश्य पहाड़ी क्षेत्रों में स्मैक के नशे को बढ़ावा देकर मांग उत्सर्जित करते हुए युवाओं को नशे के जाल में फसाँकर अवैध नशे के कारोबार को अधिक से अधिक फैलाकर लाभ कमाना था । अभियुक्त को गिरफ्तार कर एनडीपीएस एक्ट के तहत कोतवाली अल्मोड़ा में एफआईआर पंजीकृत की गई है।

अभियुक्त द्वारा स्मैक जहां से लायी जा रही थी उसके स्त्रोत के साथ-साथ अल्मोड़ा व पहाड़ के अन्य जनपदों के सम्पर्क सूत्रों की जानकारी भी की जा रही है, संलिप्तता पाये जाने पर अन्य दोषियों के विरुद्ध भी सख्त कानूनी कार्यवाही की जायेगी । घटना में प्रयुक्त मोटर साईकिल बजाज प्लेटिना संख्या UP27 BE-3259 को भी पुलिस द्वारा कब्जे में ले लिया गया*है, साथ ही अभियुक्त द्वारा अवैध रुप से अर्जित की गयी अन्य सम्पत्ति व आपराधिक इतिहास की भी जानकारी की जा रही है। अवैध रुप से अर्जित सम्पत्ति के विरुद्ध भी वैधानिक कार्यवाही अमल में लायी जायेगी ।
पुरस्कार
एसएसपी अल्मोड़ा द्वारा जनपद में अब तक स्मैक की सबसे बड़ी खेप की बरामदगी कर नशा तस्कर को गिरफ्तार करने में शामिल पुलिस टीम को 5 हजार रुपये के ईनाम से पुरस्कृत किया गया है।
गिरफ्तार अभियुक्त-
मोईन खान उम्र-27 वर्ष पुत्र नौशेर निवासी आमडार, थाना पुवाया, जिला शाहजहाँपुर (उ0प्र0)
बरामदगी-320 ग्राम स्मैक व 01 इलेक्ट्रानिक तराजू
कीमत-32,00,000 रुपये(बत्तीस लाख रुपये)
पुलिस टीम का नाम-
1- क्षेत्राधिकारी अल्मोड़ा श्री विमल प्रसाद
2- उप निरी० श्री सुनील सिह धानिक प्रभारी एसओजी अल्मोड़ा
3- उप निरी० श्री सौरभ कुमार भारती, प्रभारी एएनटीएफ अल्मोड़ा
4- उप निरी० श्री दिनेश सिह, प्रभारी चौकी धारानौला,कोतवाली अल्मोड़ा।
5- कानि0 श्री राकेश भट्ट एसओजी/एएनटीएफ अल्मोड़ा
6- कानि0 श्री विरेन्द्र बिष्ट, एसओजी/एएनटीएफ अल्मोड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.