Loading

अल्मोड़ा, 22 मई 2024 मुख्य विकास अधिकारी आकांक्षा कोण्डे की महिला सशक्तिकरण और ग्रामीण विकास को बढ़ावा देने की पहल – ग्राम पंचायत धामस में दुग्ध संग्रह केंद्र स्थापित। मुख्य विकास अधिकारी, आकांक्षा कोण्डे की पहल पर, ग्राम पंचायत धामस, विकासखंड हवलबाग में दुग्ध संग्रह केंद्र स्थापित किया गया। यह केंद्र महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने और ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा।

मुख्य विकास अधिकारी श्रीमती कोण्डे का मानना है कि यह दुग्ध संग्रह केंद्र ग्रामीण महिलाओं को अपने दूध का उचित मूल्य प्राप्त करने, अपनी आय में वृद्धि करने और आत्मनिर्भर बनने में सक्षम बनाएगा। केंद्र में आधुनिक तकनीक और उपकरणों का उपयोग किया जाएगा, जो दूध की गुणवत्ता और स्वच्छता सुनिश्चित करेगा। यह केंद्र ग्रामीण किसानों को बेहतर बाजार मूल्य प्राप्त करने और डेयरी उद्योग को बढ़ावा देने में भी मदद करेगा।
श्रीमती कोण्डे ने महिलाओं को जिला और विकासखंड स्तर पर हर संभव सहायता प्रदान करने का आश्वासन दिया है। इस पहल से न केवल महिलाओं की आर्थिक स्थिति में सुधार होगा, बल्कि पूरे ग्रामीण समुदाय के विकास में भी योगदान मिलेगा।
दुग्ध संग्रह केंद्र की स्थापना से ग्रामीण क्षेत्रों में दुग्ध उत्पादन में वृद्धि होगी और किसानों को अपने उत्पादों का उचित मूल्य प्राप्त होगा। केंद्र से जुड़े सभी हितधारकों को लाभान्वित करने के लिए नियमित प्रशिक्षण कार्यक्रम और जागरूकता अभियान आयोजित किए जाएंगे।
इस पहल से 150 ग्रामीण महिलाएं सीधे लाभान्वित हुई हैं, जिससे उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है और वे आत्मनिर्भर बन रही हैं। इस कार्यक्रम को राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन (N R L M) के अंतर्गत कार्यान्वित किया गया है, जो ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं के आर्थिक विकास को बढ़ावा देने का मिशन है।
मुख्य विकास अधिकारी श्रीमती कोण्डे ने इस पहल के लिए समर्पित होकर काम करने का संकल्प लिया है, ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाएं आर्थिक रूप से सशक्त हों और आत्मनिर्भर बन सकें।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.