108 total views

उत्तराखंड क्रांति दल छोड़ उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी में शामिल हुए वरिष्ठ नेतागण

गोपेश्वर उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी की केंद्रीय कार्यकारिणी की आवश्यक बैठक आज गोपेश्वर संपन्न हुई। इस अवसर पर उत्तराखंड क्रांति दल के वरिष्ठ पदाधिकारियों द्वारा दल की सदस्यता छोड़ कर उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। बैठक की अध्यक्षता करते हुए श्री तिवारी जी ने सभी वरिष्ठ पदाधिकारियों और सदस्यों का स्वागत करते हुए कहा कि उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी उत्तराखंड की अस्मिता और उत्तराखंड बचाने के लिए संघर्ष कर रही है और नए और अनुभवी लोगों का जुड़ना राज्य की राजनीति को नया आयाम देगा।

सदस्यता ग्रहण करने वाले सदस्यों ने कहा कि उत्तराखंड परिवर्तन पार्टी लगातार राज्य के मुद्दों पर संघर्ष कर रही है अतः सभी को पार्टी को मज़बूत कर राज्य को एक सशक्त राजनीतिक विकल्प देना होगा।

पार्टी का दामन थामने वालों में यूकेडी के पूर्व जिलाध्यक्ष और वर्तमान केंद्रीय सचिव श्री अव्वल सिंह भंडारी, जिला उपाध्यक्ष केशवानंद सती, जिला महामंत्री श्री यशवंत सिंह ‘ बाबा ‘ घाट ब्लॉक के अध्यक्ष विक्रम सिंह नेगी, ब्लॉक महामंत्री जयवीर सिंह फर्स्वाण, दसोली ब्लॉक से महिला प्रकोष्ठ की अध्यक्ष श्रीमती भागीरथी भट्ट, युवा अध्यक्ष संजय भट्ट, श्रीमती यशोदा देवी, श्री लक्ष्मण सिंह नेगी, वन पंचायत सरपंच चौरी, श्री कल्पेश खंडूरी सहित कई लोगों ने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। उन्होंने कहा कि उपपा ही राज्य के लिए एकमात्र विश्वशनीय पार्टी है।
उत्तराखंड के जनमानस के हित में संघर्ष के लिए पार्टी को मजबूत करने के लिए जनपद की इकाई का गठन किया गया है और पार्टी को विस्तार देते हुए जिला संयोजन का दायित्व केशवानंद सती को सौंपा गया। जिनके साथ श्री अव्वल सिंह भंडारी को जिला प्रभारी का अतिरिक्त दायित्व सौंपा गया जो जिला संयोजक के साथ सहयोग कर जिला कार्यकारिणी का गठन करेंगे और एक माह बाद अधिवेशन किया जाएगा।

उत्तराखंड पर्यटन पार्टी के केंद्रीय नेतृत्व में पार्टी के विस्तार हेतु गोपेश्वर, चमोली में जनपद इकाई का गठन एवं विस्तार करने हेतु उपस्थित केंद्रीय अध्यक्ष पीसी तिवारी, श्री प्रभात ध्यानी जी, जे पी बड़ौनी, नरेश नौड़ियाल, केंद्रीय कार्यकारिणी सदस्य श्री यशवंत सिंह बिष्ट, एडवोकेट रंजना सिंह, उत्तराखंड छात्र संगठन से भावना पांडे आदि लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.