348 total views

वियना: ऑस्ट्रिया (Austria) के चांसलर अलेक्जेंद्र शैलेनबर्ग ने देश में बढ़ते कोरोना मामलों को लेकर चेतावनी जारी की है. शैलेनबर्ग ने कहा कि देश में जो लोग टीका नहीं लगवा रहे हैं, उन्हें पाबंदियों का सामना करना पड़ सकता है. अगर कोरोना वायरस के मामले बढ़ते हैं तो ऐसी स्थिति में उन लोगों को लॉकडाउन संबंधी नई पाबंदियों का सामना करना पड़ सकता है.

कोरोना के बढ़ते मामले चिंता का विषय

शैलेनबर्ग ने इससे पहले शुक्रवार को राज्य स्तरीय नेताओं के साथ बैठक की और तेजी से बढ़ते मामलों पर कार्रवाई के बारे में चर्चा की.

यह भी पढ़ें: तालिबान राज में सिखों के पास दो ही विकल्प- मुस्लिम बनो या मुल्क छोड़ो

बढ़ा दी जाएंगी पाबंदियां

उन्होंने ऐलान किया कि अगर देश के अस्पतालों की कुल ICU क्षमता के 25% में कोविड-19 के मरीज एडमिट होते हैं तो रेस्त्रां और होटलों जैसी जगहों पर केवल उन्हीं को एंट्री जाएगी जिन्हें टीके लग चुके हैं. फिलहाल ICU में COVID रोगियों की संख्या 220 है.

धीमी पड़ रही ऑस्ट्रिया में वैक्सीनेशन की रफ्तार 

स्वास्थ्य अधिकारियों के अनुसार, पिछले एक सप्ताह में ऑस्ट्रिया ने वायरस के 20,408 नए मामले दर्ज किए हैं, जिससे प्रति 1 लाख निवासियों पर 7-दिन का औसत 228.5 हो गया है. एक हफ्ते पहले, यह आंकड़ा प्रति 1 लाख निवासियों पर 152.5 था. हालांकि ऑस्ट्रिया की सरकार ने नागरिकों को टीकाकरण के लिए प्रोत्साहित किया है, लेकिन हाल के महीनों में यह प्रयास धीमा हो गया है. देश में अब तक कुल आबादी के लगभग 65.4% को टीके की एक खुराक मिली है तो वहीं 62.2% लोग पूरी तरह से वैक्सीनेटेड हो चुके हैं.

LIVE TV

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published.