44 total views

अल्मोड़ा 23 फरवरी, 2024 कुमाऊं आयुक्त दीपक रावत ने आज वर्चुअल माध्यम से जनपद के विभिन्न विभागों द्वारा किये जा रहे विकास कार्यों की समीक्षा की। इस दौरान उन्होंने लंबित विभिन्न योजनाओं, वन भूमि से संबंधित प्रस्ताव जो जनपद स्तर पर लंबित हैं, पिछले वर्षों में हुई सड़क दुर्घटनाओं, जल जीवन मिशन, जिला, राज्य, केंद्र तथा बाह्य सहायतित योजनाओं की वित्तीय एवं भौतिक प्रगति एवं भूमि संबंधित दर्ज मामलों की समीक्षा की। इस दौरान आयुक्त ने सभी कार्यों की भौतिक एवं वित्तीय प्रगति को लेकर सम्बन्धित विभागीय अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि सभी कार्यों को एक समयबद्धता के साथ पूर्ण करते हुए कार्यों की गुणवत्ता को बनाये रखा जाए । उन्होंने कहा कि यदि कार्यों को समय सीमा तथा गुणवत्ता के साथ नहीं किया गया तो संबंधित अधिकारी के विरुद्ध कार्रवाई अमल में लायी जाएगी साथ ही कहा कि जिला योजना, राज्य योजना संबंधी कार्यों 15 मार्च तक शत प्रतिशत व्यव करना सुनिश्चित करें। जल जीवन मिशन के कार्यों को समय पर पूरे करने तथा गुणवत्ता का ध्यान रखने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए गए।
बैठक में जनपद के अंतर्गत हुई सड़क दुर्घटनाओं की समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि रोड सेफ्टी के जो भी मानक हैं, उन्हें पूर्ण किया जाए। उन्होंने कहा कि इस संबंध में मुआवजा प्रक्रिया लंबित न रहे इसका विशेष ध्यान रखने के निर्देश दिये।
भूमि संबंधी मामलों की समीक्षा के दौरान उन्होंने जिलाधिकारी को निर्देश दिये कि भूमि में खरीद-फरोख्त समेत व्यवसायिक गतिविधियों पर खास नजर रखी जाए। उन्होंने निर्देश दिये कि सड़कों या अन्य निर्माण कार्यों हेतु जो भूमि अधिग्रहण की जाती है तो भूमि स्वामी को मुआवजा समय से देना सुनिश्चित करें।
इस दौरान आयुक्त की अध्यक्षता में जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण की 8वीं बोर्ड बैठक भी आयोजित की गयी। बैठक में नगर क्षेत्र में पिंक टॉयलेट बनाने तथा सुमित्रानंदन पार्क के सौंदर्यकरण के कार्यों का प्रस्ताव भी पास किया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी विनीत तोमर, मुख्य विकास अधिकारी आकांक्षा कोंडे , अपर जिलाधिकारी सीएस मर्तोलिया सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.