Loading

जोशीमठ मे पिछले 107 दिनों से आपदा के प्रभावितों के विभिन्न मागो को लेकर चल रहा आन्दोलन , फिलहास स्थगित कर दिया गया है यह आन्दोलन जोशीमठ नगर के आपदाग्रस्थ क्षेत्रों का पुनर्स्थापन, तथा आपदा से प्रभावित हुए लोगों के क्षति की भरपाई/मुआवजे की मांगों को लेकर किया जा रहा था। इस आन्दोलन को सी एम के आस्वासन के बाद 21 अप्रैल 2023 से इसे 20 दिनों के लिये स्थगित किया गया है । इस सम्बन्ध में 8 अप्रैल 2023 को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने जोशीमठ संघर्ष समिति के प्रतिनिधियों से बातचीत के बाद स्थगित किया है जिसमे सी एम ने आन्दोलनकारियों द्वारा उठाई गईं 11 मांगों पर सहमति व्यक्त की थी, और आज उपजिलाधिकारी द्वारा लिखित पत्र दिया गया है, जिसमें 11 सूत्री मांगों को हल करने, समय पर वार्ता द्वारा सभी समस्याओं का हल निकालने के आश्वासन के बाद धरना स्थगित किया गया है।”संघर्ष समीति द्वारा घोषणा की गई है कि सरकार 11 मई तक दिए गए आश्वासनों पर ठोस जमीनी कार्रवाई अमल में लाए।वरना 11 मई के बाद फिर आन्दोलन होगा ।संघर्ष समीति इन 20 दिनों में सरकार के कार्यों की समीक्षा करने के साथ साथ आगे के आंदोलन की तैयारियां भी करेगी।लोगों के बीच जाकर आंदोलन की अब तक की उपलब्धि बताने के साथ भविष्य की चुनौतियों और उसके लिए आंदोलन की भावी कार्यक्रमों की रूपरेखा भी बनायेगी ।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.