192 total views


अल्मोड़ा28 जून जिला विकास प्राधिकरण को समाप्त करने की मांग को लेकर सर्वदलीय संघर्ष समिति ने आज गांधी पार्क चौहानपाटा अल्मोड़ा में धरना दिया।इस अवसर पर समिति ने प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी भी की।धरने को सम्बोधित करते हुए कांग्रेस नगर अध्यक्ष पूरन सिंह रौतेला ने कहा कि प्रदेश की भाजपा सरकार ने तुगलकी फरमान से नवम्बर २०१७ में समूचे पर्वतीय क्षेत्र में प्राधिकरण लागू कर दिया था जिसका समिति एवं स्थानीय जनता लगातार विरोध कर रही है।उन्होंने कहा कि समिति के आन्दोलन एवं जनता के भारी दबाव में कुछ माह पहले प्रदेश सरकार ने जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण को स्थगित करने की बात तो कही परन्तु अभी तक इसे समाप्त नहीं किया गया है।उन्होंने कहा कि इस जिलास्तरीय विकास प्राधिकरण को समाप्त करने की मांग को लेकर सर्वदलीय संघर्ष समिति लगातार आन्दोलनरत है तथा धरने,प्रदर्शन तथा ज्ञापन आदि के माध्यम से लगातार प्रदेश सरकार को चेताने का कार्य कर रही है।इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इसे सरकार की हठधर्मिता ही कहेंगे कि विगत साढ़े चार वर्षों से जनता लगातार आन्दोलन के माध्यम से सरकार से मांग कर रही है कि इस जनविरोधी काले कानून को पर्वतीय क्षेत्रों से समाप्त किया जाए पर सरकार लगातार जनता की मांगों को अनसुना कर रही है।उन्होंने कहा कि प्राधिकरण स्थगित की घोषणा तो सरकार ने कर दी परन्तु भवन मानचित्र स्वीकृति सम्बन्धित अधिकार नगरपालिका को नहीं दिए।जिससे जहां एक ओर नगरपालिका की आर्थिक स्थिति लगातार खराब हो रही है वहीं दूसरी ओर जनता में भी असमंजस की स्थिति है कि वे अपने भवन निर्माण के लिए मानचित्र स्वीकृत कहां से कराए?उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार को स्पष्ट आदेश के तहत जिला विकास प्राधिकरण को पूर्णतया समाप्त करना चाहिए।उन्होंने कहा कि प्राधिकरण को समाप्त कर भवन मानचित्र स्वीकृती सम्बन्धी सभी अधिकार पूर्व की तरह नगरपालिका को देने चाहिए।समिति के सदस्यों ने स्पष्ट रूप से कहा कि जब तक प्रदेश सरकार स्पष्ट आदेश के तहत जिला विकास प्राधिकरण को समाप्त नहीं कर देती तब तक समिति का आन्दोलन बदस्तूर जारी रहेगा।समिति ने सदन में प्राधिकरण का मुद्दा जोर शोर से उठाने के लिए अल्मोड़ा विधायक मनोज तिवारी का आभार व्यक्त किया।धरने की अध्यक्षता नगर अध्यक्ष पूरन सिंह रौतेला ने तथा संचालन चन्द्र मणि भट्ट ने किया।धरने में कांग्रेस नगर अध्यक्ष पूरन सिंह रौतेला,जिला प्रवक्ता राजीव कर्नाटक, हेम चन्द्र जोशी,चन्द्र मणि भट्ट, लक्ष्मण सिंह ऐठानी,चन्द्र कान्त जोशी,भगीरथ पाण्डे,आनन्दी वर्मा,राजू गिरी,एन०डी०पाण्डेय, आनन्द बगडवाल, हर्ष कनवाल,मनोज जोशी,महेश लाल वर्मा,एम०सी०काण्डपाल, प्रताप सत्याल,ललित मोहन जोशी,हेम चन्द्र तिवारी,भारतरत्न पाण्डेय,घनश्याम गुरूरानी आदि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.