22 total views


अल्मोड़ा। सोबन सिंह जीना विवि के कुलपति प्रो सतपाल सिंह बिष्ट ने कहा कि विद्यार्थी जीवन में एटीट्यूड और माइंडसेट होना बहुत जरूरी है। शिक्षा के क्षेत्र में बहुत ही अवसर है। बच्चों को सामाजिक सहभागिता के साथ कार्य करने की जरूरत है।
यह बात सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय के शिक्षा संकाय में सामुदायिक कार्यशाला में पहुंचे कुलपति प्रो सतपाल सिंह बिष्ट ने कहीं। इस दौरान उन्होंने विभाग की समस्याओं और शिक्षण प्रक्रिया का अवलोकन भी किया। साथ ही सामुदायिक कार्यशाला में बीएड व एमएड प्रशिक्षुओं द्वारा की जा रही गतिविधियों का निरीक्षण भी किया। उन्होंने रचनात्मक गतिविधियों के साथ कौशल विकास शिक्षा से जोड़ने पर भी जोर दिया। और नई शिक्षा नीति का अवलोकन कर उसके अनुरूप कार्य करने के निर्देश भी दिए। शिक्षा संकाय के विभाग अध्यक्ष प्रोफेसर भीमा मनराल ने कुलपति प्रो बिष्ट का स्वागत और आभार जाता है । उन्होंने कहा कि कुलपति हमेशा से ही विवि की समस्याओं का निदान के लिए तत्पर रहते है। इस अवसर पर शिक्षा संकाय की सहायक प्राध्यापक डॉ रिजवाना सिद्दीकी की पुस्तक “मेरी सोच मेरे अल्फाज” का विमोचन भी किया। कार्यक्रम में डॉ नीलम, डॉ संगीता पवार,मनोज आर्या, सरोज जोशी,अंकित कश्यप, ललिता रावत आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.