32 total views

देहरादून मुख्यमंत्री युवराज सिंह धामी ने नई दिल्ली में मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि उत्तराखंड वैश्विक निवेश के तहत पहले लंदन, बर्मिंघम, दिल्ली और अभी दुबई और अबू धाबी में विभिन्न निवेशकों के साथ हुई बैठकों के परिणाम सकारात्मक शावित हुई इसका लाभ पर्यटन, स्वास्थ्य, शिक्षा, औषधि, कृषि, कृषि क्षेत्र में मे मिलेगा जिससे युवाओं का रोजगार मे काफी लाभ होगा निवेशकों का यूरोप में उत्चराखण्ड़ आनाऔर निवेश करना ,राज्य मे निवेश के लिये आकर्षण का परिणाम है।
उन्होंने कहा कि दुबई और आबू ढाबी में हजारों करोड़ का निवेश आ रहा है। इसके अलावा काफी प्रस्ताव भी प्राप्त हुए हैं।।मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार का प्रयास है कि 08-09 दिसम्बर 2023 तक प्रस्तावित निवेश के लिये सभी दस्तावेजों को सूचीबद्ध करने का कार्य हो। उन्होंने कहा कि विभिन्न बैठकों में जो भी सुझाव प्राप्त हो रहे हैं, उन सुझावों पर भी अमल किया जाएगा। जो भी सही प्रस्ताव आए हैं, इन पर राज्य के लिए भविष्य में कौन से उपयोगी हैं और उनमें लाभ हो सकता है, उन पर पूरा काम पूरा हो जाएगा। निवेश के साथ-साथ स्थानीय लोगों को रोजगार उपलब्ध कराने वाले और प्राथमिक सेक्टर को मजबूत बनाने वाले कच्चे माल और अधिकारों को संरक्षण के आधार पर अनुमोदित किया जाएगा।मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने जो भी नियम बनाए हैं, वहां के लोगों के हितों पर ध्यान केंद्रित करते हुए बनाए गए हैं।मुख्यमंत्री धामी ने बताया कि दो दिवसीय पर्यटन यात्रा के दौरान कुल मिलाकर पांच हजार चार सौ पचहत्तर करोड़ (15475 करोड़) के निवेश के प्रस्तावों पर विचार किये गये इसके तहत पहले दिन दुबई में 11925 करोड़ और दूसरे दिन अबू धाबी में 3550 करोड़ की जांच शामिल है।54 हज़ार करोड़ के निवेश का अनुमान है

मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में अब तक संयुक्त अरब अमीरात, ब्रिटेन और दिल्ली में कुल मिलाकर अब तक चौवन हजार पांच सौ पचास करोड़ (54550 करोड) की लंभावित निवेशकी जा चुकी है। जिसमें 15475 करोड, ब्रिटेन में 12500 करोड़ एवं ब्रिटेन में 12 हजार 500 करोड़ एवं दिल्ली में आयोजित दो अलग-अलग कार्यक्रम शामिल हैं 26,575 करोड़ के आंकड़े (4 सितंबर को 7600 करोड़ एवं 4 अक्टूबर को दिल्ली मे 18975 हजार करोड़ ) के प्रस्ताव आ चुके हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.