76 total views

अल्मोड़ा, 12 अप्रैल 2023 जागेश्वर मंदिर प्रबंधन समिति की बैठक आज जिलाधिकारी वंदना की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट में आयोजित हुई। इस दौरान जागेश्वर धाम में व्यवस्थाओं को सुदृढ़ करने, अधिक से अधिक पर्यटकों के लिए सुविधाओं को बढ़ाने जैसे अनेक मुद्दों पर समिति में चर्चा की गई। बैठक में जिलाधिकारी ने मंदिर समिति की प्रबंधक को निर्देश दिए कि सभी कर्मचारियों की उपस्थिति निर्धारित समय तक बनी रहे तथा बायोमेट्रिक से सभी की उपस्थिति लगाई जाए। कहा कि मंदिर के कार्मिकों के लिए ड्रेस तथा परिचय पत्र अनिवार्य किया जाए। उन्होंने प्रबंधक को निर्देश दिए कि मंदिर की सभी व्यवस्थाएं पारदर्शी रूप से बनाई जाएं।
जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि मंदिर परिसर में अनैतिक रूप से श्रृद्धालुओं की पर्ची न काटी जाए तथा यदि कोई ऐसा कार्य करता हुआ पकड़ा जाए तो उसके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाए। इस दौरान जिलाधिकारी ने संबंधितों को निर्देश दिए कि मंदिर समिति की भूमि की पैमाइस कर उसकी मार्किंग की जाए तथा यदि कहीं अवैध कब्जा पाया जाता है तो उसको हटाया जाए। बैठक में मंदिर समिति की प्रबंधक ज्योत्सना पंत द्वारा अवगत कराया गया कि सोशल मीडिया पर मंदिर समिति के नाम से फर्जी अकाउंट एवं पेज बनाकर मंदिर के नाम पर श्रृद्धालुओं से धनराशि की मांग करने के प्रकरण संज्ञान में आ रहे हैं जिस पर जिलाधिकारी ने निर्देश दिए कि यदि कोई सोशल मीडिया में मंदिर या मंदिर समिति के नाम से फर्जी आईडी तथा पेज बनाता है तो उनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाए।
पर्यटन सीजन के दृष्टिगत उन्होंने निर्देश दिए कि अप्रैल माह में पार्किंग, यातायात व्यवस्था तथा शटल सेवा की शुरुआत कर ली जाए। उन्होंने समिति के दैनिक कार्यों के संपादन हेतु एक कंप्यूटर ऑपरेटर की भी तैनाती करने की प्रक्रिया प्रारंभ करने के निर्देश दिए। साथ ही पुजारी प्रतिनिधि को कहा कि मंदिर की व्यवस्थाओं को बनाने के लिए सभी पुजारियों के साथ बैठक की जाए।
बैठक में उपजिलाधिकारी भनोली गोपाल सिंह चौहान, पुजारी प्रतिनिधि पंडित नवीन चंद्र भट्ट समेत अन्य उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.