30 total views

प्रदे श मे पर्वतीय जनपदों मे आज नगर निकायों का कार्यकाल समाप्त हो गया , प्रदेश सरकार ने सभी नगर निकायों मे आज से प्रशासक बिठा दिये है ।मैदानी जनपदों में कार्यकाल समाप्त नही हुवा है , । नगर निकाय चुनावों को टालकर राज्य सरकार ने एक तरह से लोकसभा चुनावों पर अपना ध्यानाकर्षण पर जोर दिया है। नगर निकाय चुनावों पर प्रमुख विपक्षी पार्टी काग्रेस यू के डी उपप व स्थानीय जनसंगठनों ने भी अपना कोई स्टैण्ड़ क्लीयर नही किया है , । इससे अनुमान लगाया जा सकता है कि चुनाव टालमे में सत्ता पक्ष के साथ ही बिपक्ष की भी बड़ी भूमिका है ,। दोनो पार्टियों समेत स्थानीय पार्चियों की भी नगर निकाय चुनाओं को सम्पन्न कराने मे कोई रुचि नही लगती ,। आज जब स्थानीय निकायों का कार्यकाल समाप्त हुवा तो पर्वतीय जनपदों के स्थानीय निकायों के सभी जनप्रतिनिधि सेवा निबृत हो गये , इन पांच वर्षों मे कुछेक जनप्रतिनिधियों ने बेहतर कार्य भी किये जबकि कई लोग जन्म मृत्यु प्रमाणपत्र तक ही सिमित भी रहे लाखों रुपये खर्च कर बने हुवे कुछ जनप्रतिनिधि , तो अपनी खर्च की गई धनराशि भी नही जुटा पाये जबकि कुछ जनप्रतिनिधों ने अगले चुनाव का खर्चा भी जरूर जुटा लिया होगा ,। फिरहाल आज सभी जनप्रतिनिधियों ने कार्यकाल की समाप्ति पर सबको बधाईया दी व बिदाई समारोह आयोदित किये ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.