Loading


अल्मोड़ा- पूर्व घोषित कार्यक्रम के तहत अल्मोड़ा के वरिष्ठ विधायक मनोज तिवारी के नेतृत्व में सैकडों काँग्रेसजनों ने चॊघानपाटा में संविधान निर्माता भारतरत्न बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर की मूर्ति के समक्ष धरना-प्रदर्शन करके प्रदेश की धामी सरकार को जनता का उत्पीड़न करने वाली सरकार बताया।
जिलाध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह भोज गुडडू की अध्यक्षता में आयोजित धरना-प्रदर्शन में विधायक मनोज तिवारी ने कहा कि उन्होंने अतिक्रमण के खिलाफ अल्मोड़ा की जनता ही नहीं उत्तराखण्ड की जनता की पीड़ा को विधानसभा के भीतर पुरजोर तरीके से उठाया था। लेकिन आज 15 दिन के बीतने के बाद भी धामी सरकार द्वारा विधानसभा के भीतर प्रश्नों के प्रति गम्भीरता नहीं दिखाना सरकार की हठधर्मिता को प्रदर्शित करता हैं। आज पुनः धामी सरकार को चेताने के लिए धरना-प्रदर्शन के माध्यम से जगाने का प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि काँग्रेस पार्टी आम जनमानस के साथ हरपल खड़ी हैं। अतिक्रमण के खिलाफ हर लडा़ई में काँग्रेस पार्टी प्रदेश स्तर पर वृहद् आन्दोलन छेड़गी।
प्रदर्शन में पूर्व सांसद प्रदीप टम्टा ने संबोधित करते हुए कहा कि जब-जब भाजपा सरकारें उत्तराखण्ड में सत्ता में आयी तो इन्होंने जनता का हर विषय पर उत्पीड़न एंव भय का वातावरण पॆदा किया है। प्रदेश की धामी सरकार द्वारा हाईकोर्ट के आदेश पर कॊई जवाब प्रस्तुत नहीं करना इनकी जनता के प्रति मंशा को स्पष्ट करता हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा ने हमेशा संविधान के नियमों की उपेक्षा करके जनता का उत्पीड़न किया हैं। आज हरवर्ग केन्द्र की मोदी एंव उत्तराखण्ड की धामी सरकार से परेशान के साथ-साथ भयभीत हैं। प्रदेश की धामी सरकार अनुभवहीन ही सरकार का तमगा हासिल कर चुकी हैं। धामी सरकार का नौकरशाही सहित अपने मंत्रियों पर नियंत्रण नहीं हैं। जनता अतिक्रमण, मँहगाई, बेरोजगारी ऒर कुशासन से त्रस्त है। इसलिए अब समय आ गया हैं। कि अब एकजुट होकर धामी सरकार की जनविरोधी नीतियों का खुलकर विरोध प्रदर्शन करके धामी सरकार को सबक सिखाना हैं। अगर समय रहते जनता नहीं जागी तो ये प्रदेश पलायन प्रदेश रहकर खंडहर हो जायेगा।
धरना-प्रदर्शन का संचालन सेवादल प्रदेश ध्वजवाहक संजय दुर्गापाल ने किया।
धरना-प्रदर्शन में जिलाध्यक्ष भूपेन्द्र सिंह भोज गुडडू, जिला महामंत्री (संगठन) त्रिलोचन जोशी, सेवादल जिला मुख्य संगठक दिनेश नेगी, महिला जिलाध्यक्ष राधा बिष्ट, महिला सेवादल प्रदेश अध्यक्ष शोभा जोशी, आनन्द बगडवाल, प्रताप सत्याल, लक्ष्मण सिंह ऎठानी, एड. महेश चन्द्र, जिला प्रवक्ता निर्मल रावत, अनुसूचित विभाग जिलाध्यक्ष किशन लाल, जिला महामंत्री गीता महरा,ब्लाक अध्यक्ष देवेन्द्र बिष्ट, पूरन सुप्याल, पूर्व जिलाध्यक्ष पीताम्बर पाण्डेय, पी सी सी सदस्य हर्ष कनवाल,नगर उपाध्यक्ष महेश चन्द्र आर्य, महिला नगराध्यक्ष दीपा साह, सोशल मीडिया विभाग उपाध्यक्ष शरद साह, रमेश काण्डपाल आदि ने वक्तव्य देकर जनता की वास्तविक पीड़ा को उजागर किया।
धरना-प्रदर्शन में जिला महिला महामंत्री जया जोशी, पूर्व नगराध्यक्ष पूरन रॊतेला, पूर्व सॆनिक विभाग जिलाध्यक्ष अरविन्द रॊतेला, प्रदेश महिला सचिव लता तिवारी, रजनी टम्टा, प्रदेश महामंत्री अल्पसंख्यक अमन अंसारी,एड. दीवान धपोला, दिनेश पन्त, मनोज वर्मा, परितोष जोशी, जिला मंत्री सुनील कर्नाटक, ब्लाक अध्यक्ष विक्रम बिष्ट, राधा तिवारी, आशा शर्मा, गीता पाण्डेय, अवनी अवस्थी, हरेन्द्र रावत, दिनेश पन्त, चन्द्रकिरण बिष्ट, रमेश नेगी, गॊरव वर्मा, जेबुल निशां अंसारी, दानिश खान, अख्तर हुसॆन,बीना पाण्डेय, तारा तिवारी, फेमिना खान, सभासद हेम चन्द्र तिवारी, राजेन्द्र तिवारी, कार्तिक साह, विनोद वॆष्णव, शंशाक माहेश्वरी, जीवन अधिकारी, कमल बिष्ट, सुमित कुमार, धीरेन्द्र गॆलाकोटी, छात्रसंघ अध्यक्ष पंकज कार्की, रोहित रॊतेला,रूचि कुटॊला,मदन डांगी, परितोष जोशी, मंयक बिष्ट, दिनेश पिलख्वाल, राजेन्द्र बोरा, शुभाशुं रॊतेला, उजमा अंसारी, बी के पाण्डेय, मुकेश नेगी, शशांक तिवारी, दीपक भट्ट , भुवन अधिकारी, कमल बिष्ट, अनुज साह, नवल बिष्ट, नितिन रावत, सहित सैकड़ों काँग्रेस कार्यकर्ता एंव प्रभावित व्यापारी एंव आम जनता मॊजूद थी।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.