Loading


अल्मोड़ा  एस एस जे विश्वविद्यालय व  स्वामी विवेकानंद महात्मा गांधी आध्यात्मिक पर्यटन परिपथ, अध्ययन केंद्र तथा रामकृष्ण कुटीर, अल्मोड़ा के संयुक्त तत्वावधान में  सेमिनारआयोजित होगा ।

अल्मोड़ा में  21- 22 मई, 2024 को सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय के स्वामी विवेकानंद महात्मा गांधी आध्यात्मिक पर्यटन परिपथ, अध्ययन केंद्र तथा रामकृष्ण कुटीर, अल्मोड़ा के संयुक्त तत्वावधान में स्वामी विवेकानंद के विचारों के आलोक में शिक्षा,शिक्षार्थी और शिक्षण संस्थान विषय पर एक अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया जा रहा है। संगोष्ठी का महत्व इस बात को लेकर समझा जा सकता है कि जाने माने शिक्षाविद,प्रेरक व्याख्याता मुख्य लीडरशिप कोच, चाणक्य संस्थान, मुंबई एवं अमेरिका के हिंदू विश्वविद्यालय के प्राध्यापक डॉक्टर राधाकृष्णन पिल्लई इस अवसर पर आधार व्याख्यान देंगे जबकि वेदांत सोसाइटी, न्यूयॉर्क के मिनिस्टर-इन-चार्ज स्वामी सर्वप्रियानंद मुख्य अतिथि के रूप में संगोष्ठी के उद्घाटन सत्र में विराजमान होंगे।
इसके इसके अलावा ढाका विश्वविद्यालय के वरिष्ठ शिक्षाविद प्रोफेसर मिल्टन देव एवं टेक्सास विश्वविद्यालय,अमेरिका के डॉक्टर मोहित प्रधान भी संगोष्ठी में संबंधित विषय पर व्याख्यान देंगे। संगोष्ठी में देश-विदेश से पधारे विद्वान शोधार्थी भी अपने शोध पत्रों का वाचन करेंगे। संगोष्ठी के मुख्य संरक्षक संगोष्ठी के मुख्य संरक्षक, कुलपति, सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय प्रोफेसर सतपाल सिंह बिष्ट तथा रामकृष्ण कुटीर अल्मोड़ा के अध्यक्ष स्वामी ध्रुवेशानंद ने कहा कि यह संगोष्ठी शिक्षा के क्षेत्र में मील का पत्थर साबित होगी। संगोष्ठी के संयोजक श्री चंद्र प्रकाश फुलोरिया तथा आयोजक सचिव डॉक्टर ललित चंद्र जोशी ने बताया कि संगोष्ठी में देश-विदेश के विद्वानों तथा शोधार्थियों के साथ स्थानीय विद्वतजन तथा स्थानीय शिक्षण संस्थानों के शिक्षक एवं शिक्षार्थी भी भागीदारी करेंगे। उन्होंने नगर के संभ्रांतजनों एवं विद्वतजनों से सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय के ऑडिटोरियम में 21 मई, मंगलवार प्रातः 9:30 बजे प्रारंभ होने वाली संगोष्ठी के उद्घाटन सत्र में भागीदारी करने का निवेदन किया है।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.