64 total views

अल्मोड़ा , दीपावली पर्वों की श्रंखला में गोवर्धन दिवस के अवसर पर गौ शाला ज्योली में आज गौ सेवा ट्रष्ट द्वारा विशेष गौ सम्बर्धन यज्ञ किया गया , इस अवसर पर गौ वंश पशुओ को विशेष रूप से अलंकृत किया गया तथा देश की समृद्धि की कामना की गई ,गौशाला,में बशहर स्थानीय लोगों ने पहुंच कर गौ ग्रास खिलाया , इस अवसर पर गौ सेवा न्यास के संस्थापक सचिव दयाकृष्ण काण्डपाल ने मुख्य रूप से गौ संम्वर्धन यज्ञ कराया , तथा वैदिक परम्पराओं को अछुण्य रखने का संकल्प लिया उन्होंने कहा कि गुलाम भारत मे गौ सम्बर्धन हेतु पहली आवाज उठाने वाले महर्षि दयानन्द के प्रति यह गौ सेवा न्यास की श्रद्धान्जली तथा गौवंश के प्रति हमारी श्रद्धा है ।,दयाकृष्ण काण्डपाल ने कहा कि केवल दूध के लिये ही नही अपितु धरती की उर्वरा शक्ति को बनाये रखने के लिये भी गौसम्बर्धन जरूरी है धरती को उपजाऊ बनाये रखना हम सभी का उत्तरदायित्व है ,उन्होंने कहा कि गौशाला मे गौ वंशीय पशुओं की संख्या लगातार बढते जा रही है ,। जिस कारण गौशाला में ब्यवस्था का दबाव बढता जा रहा है ,। पिछले 15 वर्षों से गौशाला निरन्तर जन सहयोग से संचालित होती रही इस बीच गौशाला का विस्तार भी होता रहा । यह सभी कार्य आर्य समाज की प्रेरणा से गुरुकुल मे हो रहा है ।इस अवसर पर वेद मन्त्रों की संहिता पाठ से श्रद्धालुओं को परिचित कराया गया ।
आज गोवर्धन पर्व के अवसर पर गौ सेवा न्यास के के द्वारा स्थापित इस गौशाला में हौ भक्तों ने गायों को बिभिन्न प्रकार के फल व ब्यंजन बनाकर खिलाये , गौ सेवको को वस्त्र प्रदान किये, । इस अवसर पर गौ सेवा न्यास के द्वारा आयोजित कार्यक्रम की अध्यक्षता बद्री विशाल अग्रवाल ने किया तथा संचालन सचिव दयाकृष्ण काण्डपास ने किया कार्यक्रम मे , सदस्य पान सिंह विष्ट ,यशवन्त परिहार , मनोज लोहनी महेन्दर सिंह , आशा देवी , आदि ने सहयोग प्रदान किया , कार्यक्रम मे बड़ी संख्या मे भक्त उपस्थित रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.