Loading


अल्मोड़ा- सिने अभिनेता अल्मोडा जनपद के चौखुटिया तहसील के खत्याड़ी गांव के निवासी चंदन बिष्ट आज अल्मोड़ा पहुचें तो उनसे शिष्टाचार मुलाकात हो गई चन्दन विष्ट मुंबई फिल्म इंडस्ट्री में काफी फिल्मों में काम कर चुके है। इस अवसर पर उनसे कई पत्रकार मित्रों ने सवाल किये । प्रस्तुत है उनसे उनकी फिल्मों पर बातचीत के प्रमुख अंश

प्रश्न – आपकी प्रारम्भिक शिक्षा कहा हुई अभिनय का शुरुवात कैसे हुई

चन्दन बिष्ट – मेरी प्रारंभिक शिक्षा चौखुटिया अल्मोड़ा से हुई जिसके बाद वे दिल्ली और दिल्ली में एनएसडी से अभिनय व और फिल्मों की बारीकियां सीखी।

प्रश्न फिल्म लाईन मे प्रवेश कैसे हुवा

चन्दन बिष्ट –फिल्म लाइन में शुरुआत फिल्म मिशन कश्मीर से हुई जहां उन्हें दर्शकों का पूरा प्यार मिला। उसके बाद हनीमून ट्रैवल्स प्राइवेट लिमिटेड, मिथ्या, अरमान, रघु रोमियो, दसविदानियां, लाइफ इन ए डे, मेड इन चाइना आदि मेनस्ट्रीम की फिल्मों में काम किया। उन्होंने नेटफ्लिक्स की अरण्यक, ट्रायल बाय फायर वेब सीरीज में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। अभी हाल ही में आई फायर इन द माउंटेन फिल्म के लिए उन्हें स्पेन में बेस्ट एक्टर का अवार्ड भी मिला है, यह फिल्म सोनी लिव पर उपलब्ध है।

प्रश्न – इन दिनों फिल्म इन्डस्ट्री का रुझान किस तरह की फिल्मों की तरफ है

चन्दन बिष्ट –फिल्मों के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा आजकल मेंन स्ट्रीम में रियलिस्टिक फिल्मों का चलन बढ़ा है। अब काल्पनिक दौर कम हो गया है । फिल्में रियलिटी की तरफ बढ़ी हैं। उन्होंने कहा कि वह मुंबई फ़िल्म लाइन में स्थापित हैं तो चाहते हैं कि जो भी उन्होंने सीखा है उसे आगे बढ़ाएं।

प्रश्न आप स्थापित कलाकार है उत्तराखण्ड आपकी जन्म भूमि है क्या यह कर्म भूमि भी बन सकती है

चन्दन बिष्ट –मै उत्तराखंड आते रहता हू और कार्यशालाएं करना चाहता हूं , पूर्व मे भी बच्चों को अभिनय, डिज़ाइन, निर्देशन की बारीकियों से अवगत कराते रहा हूं मै चाहूगा कि यहा एक 15 दिन की कार्यशाला लगे जिसमे मे अपना निशुल्क योगदान दुंगा ।

प्रश्न – उत्तराखण्ड़ में पर्यटन विकास पर आपकी क्या राय है

उत्तराखंड मे पर्यटक यहाँ घूमने आते हैं, इसके लिये जरूरी है कि हम अपनी जीवन शैली का प्रचार करें, राजस्थान मे लाखों पर्यटक वहां की जीवन शैली को देखने जाते है , हमारे पास बिरासत में जो मिला है वही हम पर्यटकों को दें तो पर्यटन बढेगा ।पहाड़ों के लोगों का भी अपना जीवन दर्शन है और यहाँ के पर्यटन ब्यावसाईयों को भी पर्यटकों को यह समझाना चाहिए। अब तो मुम्मई के फ़िल्म निर्माता फिल्मों में उत्तराखंड की कहानियां ला रहे हैं। उत्तराखंड के लोग ईमानदार हैं तो फ़िल्म निर्माण के लिए फ़िल्म निर्माताओं को उत्तराखंड का रुख करना चाहिए। जिससे स्थानीय लोगों को रोजगार मिलेगा और फिल्मों में स्थानीय प्रतिभाओं को मौका देने से एक मंच भी मिलेगा। अपनी बात जारी रखते हुवे चन्दन बिष्ट कहते है कि आजकल सोशल मीडिया का जमाना है जिससे युवा अपनी प्रतिभा निखार रहे हैं और यदि उनमें फिल्मों के प्रति जुनून है तो वे जिस भी विधा में काम करना चाहते हैं उसका प्रशिक्षण लेकर रोजगार पा सकते हैं।

प्रश्न – उत्तराखण्ड़ मे फिल्म निर्माण पर आप क्या सोचते है

चन्दन बिष्ट –उत्तराखंड में अच्छी लोकेशन हैं जिनका इस्तेमाल फ़िल्म बनाने वालों को करना चाहिए। यहाँ के घर -घर में टैलेंट है। मै स्वयं प्रतिभाओं को आगे बढ़ाने के उद्देश्य से निजी खर्चे से उत्तराखंड आकर कार्यशालाएं करता हूँ । उन्होंने कहा कि सरकार को भी प्रतिभाओं को आगे बढ़ाने के लिए फिल्मों से संबंधित कार्यशाला आयोजित करानी चाहिए और युवाओं को प्लेटफार्म उपलब्ध कराना चाहिए।

प्रश्न आपके आगामी प्रोजेक्ट क्या है

चन्दन बिष्ट –समोसा एंड संस फ़िल्म में वे संजय मिश्रा के साथ लीड रोल में हैं और अ टाइम टू कीप सहित कई वेब सीरीज आगामी महीनों में रिलीज होने वाली हैं। इस भेंट वार्ता उनके साथ में रंगकर्मी आलोक वर्मा, विहान संस्था के देवेंद्र भट्ट और फिल्ममेकर अभिजीत फर्त्याल मौजूद रहे।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.