17 total views

हल्द्वानी। अल्मोड़ा से प्रकाशित बच्चों की पत्रिका बालप्रहरी, भारत ज्ञान विज्ञान समिति तथा हल्द्वानी किताब कौतिक के संयुक्त तत्वावधान में एच एन इंटर कालेज हल्द्वानी में आयोजित बाल लेखन कार्यशाला के समापन समारोह के अवसर पर आयोजित बाल कवि सम्मेलन में बच्चों ने हल्द्वानी, किताब कौतिक, कार्यशाला, मोबाइल, पुस्तक, अनुशासन, घर के बूढ़े आदि विषयों पर तैयार स्वरचित कविताएं सुनाई।

इस अवसर पर बालप्रहरी, फुलवारी, बाल मन, नई किरन, ज्योति, बाल भारती, बालिका स्वर, कोंपल, बाल वाटिका, बाल वाणी, प्रारम्भ, उमंग, हौसला, उम्मीद, संघर्ष, बाल दोस्त, मेरी पत्रिका, नई ज्योति, नई उमंग, मेरी उड़ान आदि नामों से बच्चों द्वारा तैयार हस्तलिखित पत्रिकाओं की प्रदर्शनी विशेष आकर्षण का केंद्र रही। बच्चों ने समापन समारोह के मुख्य व विशिष्ट अतिथियों के सामने बालप्रहरी संपादक उदय किरौला द्वारा निर्देशित नुक्कड़ नाटक “मोबाइल टन-टनाटन” का भी मंचन किया. नाटक के माध्यम से बच्चों ने मोबाइल संस्कृति पर कटाक्ष किया और उससे हो रहे दुष्प्रभाव पर रोशनी डाली. नाटक में बेहतरीन अभिनेता के लिए हर्षिता रौतेला “बुलबुल” को विशेष तौर पर सम्मानित किया गया. रंगकर्मी वन्या जोशी व परिवहन अधिकारी विमल पान्डे ने हर्षिता रौतेला के अभिनय की विशेष तौर से सराहना की.

समापन समारोह के मुख्य अतिथि पूर्व जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ. बीआरबी पनेरु ने बच्चों को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारे समय में इस तरह की कार्यशालाएं नहीं होती थी. उन्हें एक बेहतरीन अवसर इस कार्यशाला के माध्यम से अपनी रचनात्मक प्रतिभा को निखारने का मिला है. उन्हें इसका लाभ हमेशा उनके जीवन में मिलेगा और उनके जीवन की दिशा तय करने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा.

समापन समारोह की शुरूआत “ज्ञान का दिया जलाने” समूह गीत से हुई। अतिथियों ने सभी प्रतिभागी बच्चों को बैज लगाकर सम्मानित किया। बच्चों ने जापानी कसा “औरेगैमी” के तहत अखबार से बने मुकुट अतिथियों को पहनाए। अतिथियों ने मंजू पांडे ‘उदिता’ द्वारा सम्पादित हस्तलिखित पत्रिका ‘हल्द्वानी दर्पण’ का लोकार्पण भी किया।

गत 4 फरवरी से 8 फरवरी तक चली पांच दिवसीय कार्यशाला में बालप्रहरी संपादक उदय किरौला, वरिष्ठ पत्रकार जगमोहन रौतेला, प्रो. प्रभा पंत, कहानीकार दिनेश कर्नाटक, विमला जोशी ‘विभा’, मंजू पांडे ‘उदिता’, बीना फुलेरा, लोकेष्णा मिश्रा, डा.शैलेंद्र धपोला, अंजू भट्ट, प्रेमा शर्मा, दामोदर जोशी देवांशु, गोविंद बल्लभ बहुगुणा, इंद्रा तिवारी, हरिहर लोहुमी आदि ने बच्चों की विभिन्न गतिविधियां कराई।

समापन समारोह की अध्यक्षता एचएन इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य भगवान सिंह सामन्त ने की। कार्यक्रम का संचालन उदय किरौला और कार्यशाला के बच्चे मोहम्मद अरमान ने संयुक्त तौर पर किया. इस अवसर पर डायट भीमताल की प्राचार्य गीतिका जोशी, ललिता कापड़ी, डॉ. हयात सिंह रावत, हेम पंत, वन्या जोशी उपस्थित थे।

बालक लेखन कार्यशाला में एच.एन.इंटर कालेज, राजकीय कन्या इंटर कालेज धौलाखेड़ा, रा.उ.प्रा.विद्यालय मुखानी, शिशु भारती विद्या मंदिर, हरगोविंद सुयाल सरस्वती विद्या मंदिर आदि विद्यालयों के 45 से अधिक बच्चों ने भागीदारी की।

Leave a Reply

Your email address will not be published.