Loading


अल्मोड़ा। सोबन सिंह जीना विश्वविद्यालय के शिक्षा संकाय की ओर से बीएड और एमएड प्रशिक्षुओं में सामाजिक सहभागिता बढ़ाने के उद्देश्य से सामुदायिक विकास कार्यशाला का आयोजन किया जा रहा है । कार्यक्रम का शुभारंभ विभागाध्यक्ष प्रो भीमा मनराल द्वारा किया गया। जिसमें शिक्षा संकाय के समस्त बीएड एवं एमएड प्रशिक्षुओं में कौशल विकास करना है ।
गुरुवार को कार्यशाला के पहले दिन लोअर केंपस से लेकर ऑडिटोरियम तक प्रशिक्षुओं ने स्वच्छता अभियान भी चलाया गया। जिसके माध्यम से स्वच्छता को लेकर जन जागरूकता फैलाई गई। इस अवसर पर महिला सशक्तिकरण, पर्यावरण संरक्षण, घरेलू हिंसा, जल संरक्षण, सामुदायिक कार्य आदि पर चार्ट प्रतियोगिता का आयोजन भी किया गया। प्रो भीमा मनराल ने बताया कि जो सामुदायिक गतिविधि प्रशिक्षुओं को सिखाई जाएगी उसको स्कूलों में जाकर बच्चों को सामाजिक भागीदारी के बारे में प्रशिक्षण जानकारी देंगे। उन्होंने बताया कि समूह में किस तरीके से कार्य किया जाता है। इसके अलावा सामुदायिक कौशल विकास को बढ़ावा देने के लिए खान-पान बनाने का भी संबंधित कौशलों का विकास भी सिखाया जा रहा है। बताया कि यह कार्यक्रम 21 फरवरी तक आयोजित किया जाएगा जिसमें हर रोज अलग-अलग गतिविधियों से छात्र-छात्राओं को रूबरू कराया जाएगा। इस मौके पर डॉ रिजवाना सिद्दीकी, डॉ ममता असवाल, डॉ संगीता पंवार, डॉ नीलम कुमारी , डॉ देवेन्द्र सिंह चम्याल, अंकिता कश्यप, बीना लाल, ललित रावल, सरोज जोशी आदि मौजूद रहे।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.