41 total views

अल्मोड़ा (दन्या ) किसानों का ही नही अब आम लोगों का  धैर्य भी वन्य जीवों की घरों मे तहल कदमी से जबाब देने  लगा है ।, दन्या के सामाजिक कार्यकर्ता गोविन्द गोपाल ने इस सम्बन्ध  मे रैन्ज अधिकारी पनुवानौला तहसील भनोली को पत्र लिखकर कहा है कि वन विभाग जंगली जानवरों को नियन्त्रित करें।  उन्होने पत्र में कहा है कि अब ग्रामीण क्षेत्रों मे कृर्षि बागवानी व पशुपालन करना ही नही अपितु सुरक्षित रहना भी कठिन हो गया है ।  मानवीय बस्तियों मे बन्दर लंगूर सुवर बाघ आदि जंगली जानवरों का तांण्डव होने लगा  है ।

उन्होने कहा कि दिन दहाड़े या गोधुली के समय ये जानवर अब घरो के पास ही अपना बसेरा बनाने लगे है , 25 जनवरी के दिन जब वन विभाग के अधिकारी बाघ के एक मृतक शावक की सुध ले रहे थे ठीक उसी समय मनौली निवासी बन्दरों व सुवरो के झुन्ड से आतंकित हो रहे थे बन्दर फलों के पेड़ो तो टूट पडे को सुवर खेत खोदने लगे घर के लोगों को अपनी जान बचाने के लिये घर के भीतर कैद हो जाना पड़ा फलो व उद्यान की हानि से ग्रामीणों का आर्थिक नुकसान हो रहा है वे अपना खेती औद्यानिकी बन्द करने के लिये बिवश है । उन्होंने कहा है कि इस सब के बीडियो साक्ष्य उनके पास मौजूद है अत: वन विभाग समस्या का समाधान करें ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.