Loading

उत्तराखंड सरकार ने कैलाश मानसरोवर यात्रा की तर्ज पर कुमाऊं मंडल से होते हुए आदि कैलाश के लिए यात्राएं प्रारंभ कर दी है किंतु भारी बर्फबारी होने से राज्यों का आदि कैलाश पहुचना अधिक कठिन है, कुमाऊँ मंडल विकास निगम की देखरेख में यात्रा आरंभ की गई है ,आदि कैलाश की इस यात्रा के लिए 2 यात्री डाल रवाना हुए जिनको सड़क खराब होने के कारण वापस लौटना पड़ा और भी आधी कैलाश की यात्रा यात्रा के लिए पिथौरागढ़ पहुंच चुका है यदि बर्फ से लगभग हुई सड़क साफ नहीं हुई आदि कैलाश पहुचना मुस्किल होगा ,

कैलाश यात्रा के लिये पहला दल मौसम की खराबी के कारण वहां नही पहुच पाया किन्तु दूसरे दल के 12 यात्रियों ने बुधवार को नाभीढांग स्थित ओम पर्वत के दर्शन अवश्य किए। इसके बाद यात्री कुटी से आगे बंद हुए रास्ते को देखने के ले गई किन्तु बर्फबारी के बाद से रास्ता बंद होने के कारण यात्री वापस लौट आए।दूसरे दल के यात्री सोमवार को धारचूला से गुंजी पहुंचे थे। दल में महाराष्ट्र, यूपी से चार-चार, तेलंगाना और चंडीगढ़ से दो-दो यात्री शामिल हैं। इसमें आठ पुरुष और चार महिला यात्री शामिल हैं।

तीसरा दल बुधवार की देर शाम पिथौरागढ़ पहुच कर यहां यहा विश्राम करेगा , फिलहील यात्री प्रतिक्षा करेंगे वे सूत्रों के अनुसार वे ज्योलिंगकांग मोटर मार्ग में भारी बर्फ जमा होने से आदि कैलाश तक नहीं जा पा रहे हैं। यदि सड़क नहीं खुली तो तीसरे दल को भी बिना आदि कैलाश के दर्शनों के ही वापस लौटना पड़ सकता है। यद्यपि आयोजकों को उम्मीद है कि मौलम मे तब्दीली आयेगी ।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.