Loading

अल्मोड़ा जिलाधिकारी वंदना के निर्देशों के क्रम में जनपद आपदा प्रबंधन प्राधिकरण अल्मोड़ा द्वारा संभावित आपदाओं से निपटने के लिए जनपद के विभिन्न तहसील एवं थानों में तैनात ग्राम प्रहरियों को आपदा के समय खोज एवं बचाव तथा प्राथमिक चिकित्सा का सात दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया, जिसमें विभिन्न प्रकार की प्राकृतिक आपदाओं के दौरान जैसे भूकंप, बाढ़ और भूस्खलन तथा अन्य प्रकार की आपदाओं से कैसे बचाव किया जा सकता है, के संबंध में प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के दौरान प्रशिक्षकों द्वारा ब्लड कंट्रोलिंग, अग्निशमन, बाढ़ से सुरक्षा, रोप क्लाइंबिंग, इमरजेंसी मोमेंट तथा इंप्रोवाइज स्ट्रेचर बनाने की जानकारी प्रतिभागियों को दी गई। प्रशिक्षण के समापन के अवसर अपर जिला अधिकारी सीएस मर्तोलिया द्वारा भैंसवाड़ा फार्म पहुंचकर प्रतिभागियों से 7 दिनों में किए गए प्रशिक्षण के बारे में जानकारी प्राप्त की गई, तथा ग्राम प्रहरियों से भविष्य में किसी भी प्रकार की आपदा में पूर्ण मनोयोग से सहयोग प्रदान करने के कहा गया। इस प्रशिक्षण के प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र भी वितरित किए गए। यह प्रशिक्षण कार्यक्रम जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी विनीत पाल के नेतृत्व में संचालित किया गया।
इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान आपदा प्रबंधन विभाग के मास्टर ट्रेनर आलोक वर्मा, भुवन चंद्र कांडपाल तथा एनडीआरफ टीम के हेड कांस्टेबल संतोष परिहार, हेड कांस्टेबल पंकज डंगवाल, कांस्टेबल रविंद्र भारद्वाज समेत अन्य उपस्थित रहे।

Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.