70 total views

अल्मोड़ा 20 मई, 2022विकासखण्ड धौलादेवी की क्षेत्र पंचायत की बैठक मे सदस्यों ने अपमे अपने क्तेत्र की समस्याओ को उछाया , प्रमुख क्षेत्र पंचायत नेहा बिष्ट की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में प्रमुख मे सभी अधिकारियों को निर्देशित किया कि आज की बैठक में जनप्रतिनिधियों द्वारा जो समस्यायें सदन में रखी है उन शिकायतों का निस्तारण एक तय समय सीमा अन्तर्गत निस्तारण करना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जो समस्यायें आज दर्ज करायी गयी है उनकी पुनरावृत्ति न हो इसका विशेष ध्यान रखा जाय और शिकायतकर्ता को भी अवगत कराया जाय। इस दौरान उन्होंने विकासखण्ड कार्यालय में पद के सापेक्ष कर्मचारी न होने पर शासकीय कार्य बाधित होने, नये भवन में फर्नीचर आपूर्ति करने, ब्लॉक मार्ग को ठीक किये जाने एवं मुख्य गेट को बनवाने के लिये जिलाधिकारी से अपील की। जिस पर जिलाधिकारी ने उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया।बैठक में स्वास्थ्य विभाग, लोनिवि, पीएमजीएसवाई, जल निगम, जल संस्थान, विद्युत, शिक्षा, खाद्य आपूर्ति, सिंचाई, समाज कल्याण, कृषि विभाग सहित अन्य विभागों की क्रमवार समीक्षा करते हुए जनप्रतिनिधियों द्वारा अनेक समस्यायें विभागीय अधिकारियों के सम्मुख रखी।

स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के दौरान आरासलपड़ आयुर्वेदिक चिकित्सालय को मुख्य सड़क मार्ग में शिफ्ट किये जाने, कोरोना काल में सेवा देने वाले कार्मिकों को पुनः तैनात किये जाने, धौलादेवी क्षेत्र में एएनएम की कमी होने पर तैनाती किये जाने की मॉग रखी। जिस पर विभागीय अधिकारी द्वारा उक्त समस्याओं के निस्तारण का आश्वासन दिया।

लोनिवि/पीएमजीएसवाई मोटर मार्ग आर सल्पड़ का मुआवजा नहीं मिलने की शिकायत पर जिलाधिकारी ने रोस्टर के माध्यम से अमीन को गॉव में प्रभावितों को मुआवजा बटवाने के निर्देश दिये। इस दौरान जिलाधिकारी ने चिमखोला मोटर मार्ग के लिये वन विभाग के अधिकारियों को तत्काल प्रस्ताव बनाकर जिला कार्यालय को प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। इस दौरान बसौली-चिमखोला, आरासल्पड़ मोटर मार्ग, बसौली से सेराघाट मोटर मार्ग, चामखोला से गल्ली मोटर मार्ग क्षतिग्रस्त होने की शिकायत दर्ज की गयी जिस पर विभागीय अधिकारियों को तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिये गये। इस बैठक में जल निगम, जल संस्थान द्वारा संचालित पेयजल लाईने क्षतिग्रस्त होने, पेयजल सुचारू नहीं आने, बिल अधिक आने सहित अन्य समस्यायें रखी। जिस पर जिलाधिकारी ने अधिकारियों को तत्काल कार्यवाही करते हुए लोगों को पेयजल मुहैया कराने के निर्देश दिये। इस दौरान विद्युत, शिक्षा, खाद्य आपूर्ति, सिंचाई विभागों की समस्याओं को जनप्रतिनिधियों द्वारा सदन में रखा जिस पर सम्बन्धित अधिकारियों को तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश जिलाधिकारी द्वारा दिये गये।
इस बैठक में जिलाधिकारी वन्दना ने सदन को सम्बोधित करते हुए कहा कि जनप्रतिनिधियों द्वारा जो भी समस्यायें अपने-अपने क्षेत्र की रखी है उन समस्याओं के लिये सम्बन्धित अधिकारियों को निर्देशित कर दिया गया है।

बैठक में जिलाधिकारी ने ग्राम प्रधान धसपड़ दिनेश पाण्डे को जल संरक्षण में मार्च, 2022 में नार्थ जोन में प्रथम स्थान मिलने पर उन्हें पुष्पगुच्छ देकर सम्मानित किया ,डी एम ने कहा कि आज ग्राम प्रधान हम सबके लिए एक रोल मॉडल है। उन्होंने सभी जनप्रतिनिधियों से अपील की वे अपने-अपने क्षेत्रों में ऐसे ही विकास कार्य करें ताकि वे भी एक अच्छे रोल मॉडल के रूप में जाने जाय। इस दौरान कायाकल्प योजना के तहत जनपद में प्रथम स्थान आने पर प्राथमिक स्वास्थ्य क्रेन्द्र धौलादेवी के अधिकारियों को जिलाधिकारी द्वारा सम्मानित किया गया।
इस बैठक में ज्येष्ठ प्रमुख योगेश भट्ट, कनिष्ठ प्रमुख मंजू नैनवाल, सांसद प्रतिनिधि नरेन्द्र सिंह बिष्ट, मुख्य विकास अधिकारी नवनीत पाण्डे, उप जिलाधिकारी गोपाल सिंह चौहान, जिला विकास अधिकारी के0एन0 तिवारी सहित अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।