76 total views

आई आई टी मद्रास ने स्वदेशी तकनीकि पर आधारित 5 जी नेटवर्क का शान्दार परिक्षण कर देश का गौरव बढाया है । केन्द्रिय टेलीकौम मन्त्री अश्वनी बैष्णव ने यह जानकारी देते हुवे कहा कि यह देश के लिये बड़ी उपलब्धि है जो पूर्णत: स्वदेशी तकनीकि पर आधारित है इस साल की शुरुआत में ही 5G आने के घोषणा होते ही इसमें सबकी दिलचस्पी बढ़ गई। देश के बड़े टेलीकॉम ऑपरेटर्स ने 5जी लाने की ओर कदम बढ़ा दिए हैं। इनमें सबसे पहले एयरटेल देश के कई हिस्सों में एयरटेल 5G का सफल परीक्षण करने में कामयाब हुआ है। सूत्रों के अनुसार एयरटेल ने हाल ही में नोकिया के साथ मिलकर कोलकता के बाहरी इलाकों में देश के पहले 5G का 700 MHz स्पेक्ट्रम बैंड पर सफल परीक्षण किया। हैदराबाद में किए गए एक परीक्षण में एयरटेल ने 1800 MHz बैंड में 4G स्पेक्ट्रम पर 5जी सेवाओं का लाइव टेलीकास्ट किया, जिसमें पाया गया कि एक जीबी फाइल को 30 सेकंड से भी कम समय में डाउनलोड किया जा सकता है। भारत के ग्रामीण इलाकों में भी 5जी का परीक्षण किया गया, जिसमें शानदार नतीजे पाए गए। 5जी के आने से हमारी जिंदगी से जुड़े कई क्षेत्रों में बड़े बदलाव आने की संभावना है ।